पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दर्दनाक हादसा:बेटी को ट्रेन में चढ़ाकर दौड़ते हुए सामान दे रहे थे पिता, बोगी से टकराकर प्लेटफाॅर्म पर गिरे, मौत

मुंगेर / जमुई/ लखीसरायएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जमुई स्टेशन पर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही बेटी को चढ़ाने गए थे प्रोफेसर पिता

इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही बेटी को ट्रेन में चढ़ाने गए प्रोफेसर पिता की ट्रेन से टकराकर गिरने से मौत हो गई। हादसा शनिवार की सुबह जमुई रेलवे स्टेशन पर हुआ। मृतक की पहचान मुंगेर के हवेली खड़गपुर थाना क्षेत्र के दरियापुर गांव निवासी सुनील मोदी (59 वर्ष) के रूप में हुई है। सुनील लखीसराय जिले के सूर्यगढ़ा प्रखंड स्थित जनता महाविद्यालय में समाज शास्त्र के प्रोफेसर थे। जानकारी के अनुसार सुनील मोदी की बेटी मनीषा कुमारी उर्फ झीमी, जो कोलकाता स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज की छात्रा है। उसे शनिवार जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से बंगाल जाना था। बेटी मनीषा को ट्रेन पर चढ़ाने के लिए सुनील मोदी शनिवार की सुबह दरियापुर स्थित अपने घर से जमुई स्टेशन गए थे। जहां मनीषा के चढ़ने के बाद ट्रेन खुल गई, लेकिन उसका कुछ बैग और सामान प्लेटफॉर्म पर ही रह गया था। इसके बाद सुनील अपनी बेटी को बैग देने के लिए दौड़े तभी चक्कर खाकर गिर पड़े और ट्रेन की चपेट में आने से चोटिल हो गए। जहां से उन्हें इलाज के लिए जमुई सदर अस्पताल लाया गया, ं जांच के बाद डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सदर अस्पताल, जमुई में प्रोफेसर सुनील मोदी का इलाज करने वाले डॉक्टर देवेंद्र कुमार ने बताया कि अस्पताल पहुंचने से पहले ही रास्ते में उनकी मौत हो चुकी थी, हालांकि शरीर के ऊपरी हिस्से में कोई चोट का निशान नहीं था। मृतक के परिजनों द्वारा शव का पोस्टमार्टम नहीं कराया गया। लेकिन मौत का कारण हार्ट अटैक हो सकता है।

हे भगवान, ये क्या हुआ: घर पर रोते-बिलखते सुनील के परिजन।
हे भगवान, ये क्या हुआ: घर पर रोते-बिलखते सुनील के परिजन।

पिता-पुत्री से पहले पहुंच चुकी थी ट्रेन
सुनील स्कॉर्पियो सेे दरियापुर से जमुई पहुंचे थे तो देखा कि पटना-हावड़ा जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन पहुंच चुकी है। पिता ने अपनी पुत्री को ट्रेन पर चढ़ा दिया और सामान देने लगे तभी ट्रेन खुल गई। ट्रेन खुल जाने के कारण बैग देने के लिए पिता ट्रेन के साथ-साथ दौड़ने लगे।

सामान छूटे तो 182 पर करें कॉल,जोखिम गलत
जान जोखिम में डालकर यात्रा न करें। अगर किसी प्रकार की कोई परेशानी हो तो रेल सुरक्षाबल द्वारा 182 पर कॉल कर उन्हें समस्या बताएं। रेल पुलिस तत्काल उन्हें सहायता मुहैया कराएगी। ट्रेन पर सवार होते वक्त अगर सामान छूट जाए तो उसे भी सूचना देने के बाद सामान के मालिक तक पहुंचाया जाता है। सुरक्षित यात्रा करने के लिए ट्रेन पर सवार होने से लेकर कई तरह के नियमों के पालन को लेकर लगातार रेल सुरक्षाबल जागरूकता चला रहा है। याद रखें जिंदगी अनमोल है।

चपेट में आने से आई चोट| दौड़ते हुए बेटी को बैग दे रहे थे तभी चक्कर आया और प्लेटफार्म पर गिर गए। गिरने के बाद ट्रेन की चपेट में आए और उन्हें चोट आई। घटना के बाद ट्रेन रुकी और पुत्री ट्रेन से उतरकर जीआरपी की मदद से पिता को ले सदर अस्पताल पहुंची।

मात्र दो मिनट रुकती है जनशताब्दी| बता दें कि पटना से हावड़ा तक जाने वाली 12024 पटना-हावड़ा जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन का जमुई रेलवे स्टेशन पर मात्र दो मिनट का स्टॉपेज है। यह ट्रेन सुबह 7.48 बजे जमुई पहुंचती है और 7.50 बजे रवाना हो जाती है।

मेरी बात मानते तो जिंदा होते पापा: झीमी
पिता की मौत के बाद झीमी रोते हुए बोल रही थी कि मैंने मना किया था कि मैं अकेले चली जाऊंगी, लेकिन उन्होंने एक नहीं मानी। यदि पापा मेरी बात मान जाते तो आज वे जिंदा होते। अब मुझे इंजीनियरिंग कौन कराएगा। दूसरी ओर सूर्यगढ़ा कॉलेज में भी शोकसभा हुई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें