पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

आयोजन:वेदों का वैज्ञानिक विश्लेषण जरूरी: डॉ. गोपाल

मुंगेर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पदपाठ कार्यशाला में भाग लेते प्रतिभागी
  • आरडी एंड डीजे कॉलेज में वैदिक पदपाठ के वैज्ञानिक विधि विषय पर कार्यशाला

वेदों में ज्ञान का भंडार है, लेकिन उसका वैज्ञानिक विश्लेषण आवश्यक है। घिसे-पिटे तरीकों एवं परंपरा के नाम पर अर्थ का अनर्थ करने एवं लोगों की अज्ञानता से वेदों की बदनामी भी की गई है। अतः विशेष रूप से संस्कृत के प्राध्यापकों, विद्यार्थियों को चाहिए कि मंत्रों का पदपाठ के साथ ही उसका अर्थ करना सीखें। उसका विश्लेषण करें, उसपर चिंतन करें एवं समाज को सही दिशा निर्देश दें। उक्त बातें रविवार को वैदिक पदपाठ की वैज्ञानिक विधि पर आरडी एंड डीजे कॉलेज के संस्कृत विभाग द्वारा आयोजित तीन दिवसीय कार्यशाला के समापन पर बोलते हुए संरक्षक एवं प्राचार्य डॉ. गोपाल प्रसाद यादव ने कही। विभागाध्यक्ष डॉ. विश्वजीत विद्यालंकार के संयोजकत्व में आयोजित इस कार्यशाला का संचालन प्राध्यापक डॉ. कृपाशंकर पांडेय ने बखूबी किया। प्रशिक्षक, दोआबा कॉलेज, जालंधर के प्राचार्य डा. नरेश धीमान ने प्रतिभागियाें से कहा कि वेदमंत्रों के सस्वर पाठ को ‘पदपाठ’ कहते हैं। इसमें स्वर वर्णों की सन्धि का विच्छेद तथा अवग्रह आदि विशेष विधियों के प्रभाव से यह पाठ, संहिता से भी अधिक कठिन हो जाता है। नियमों के कारण ही यह पदच्छेद नहीं है, किन्तु पदपाठ कहा जाता है। उन्होंने बताया कि विवि के सीबीसीएस पाठ्यक्रम में संस्कृत के स्नातक एवं परास्नातक स्तर तथा वैदिक साहित्य के परंपरागत एवं वेदों के प्रति अभिरुचि रखने वालों के लिए पदपाठ विधि से मन्त्रार्थ करने में सरलता हो जाती है।

50 छात्रों ने लिया कार्यक्रम में भाग
डॉ. नरेश धीमान ने पीपीटी एवं अनेकानेक सॉफ्टवेयर तथा ई कंटेंट्स के साथ सैद्धांतिक भाग को सिखलाया और अभ्यास भी करवाया। वहीं संस्कृत विभागाध्यक्ष डा. विश्वजीत ने बताया कि 175 छात्र पंजीकृत हुए थे। 50 छात्रों ने सस्वर पदपाठ में भाग लिया। सह संयोजक डा. कृपाशंकर पांडेय ने बताया कि गूगल मीट पर आयोजित कार्यशाला में सबों को नियमित कक्षा की तरह अभ्यास करवाया गया। प्रतिभागियों ने तन्मयता के साथ प्रश्न, प्रतिप्रश्न द्वारा अपने अपने संशय का निवारण किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें