त्यौहार:चेहल्लुम के नौवीं व दसवीं पर निकली झांकी, ब्रह्मोस मिसाइल, हुसैन का तीर लगा घोड़ा रहा आकर्षण केंद्र

मुंगेर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चेहल्लुम में ताजिया लेकर खेल दिखाते कौड़ा मैदान के कमेटी सदस्य। - Dainik Bhaskar
चेहल्लुम में ताजिया लेकर खेल दिखाते कौड़ा मैदान के कमेटी सदस्य।
  • 38 इमामबाड़ों से निकला लाइटिंग और फूल से सजा शीपल और ताजिया, अखाड़ा का हैरतंगेज प्रदर्शन देखने के लिए लोगों की लगी भीड़आज सुबह करबला में पहलाम होगा संपन्न सुरक्षा व्यवस्था के लिए प्रशासन ने की पूरी तैयारी

चेहल्लुम के नवमी और दसवीं पर सोमवार और मंगलवार की रात शहर के 38 इमामबाड़ों से आकर्षक लाइटिंग के साथ फूल से सजा शीपल और ताजिया के अलावा देशभक्ति से ओतप्रोत आकर्षक झांकी निकाली गई। आकर्षक झांकी के साथ इमामबाड़ा की ओर से सरदार के नेतृत्व में अखाड़ा जुलूस भी निकाला गया था। ताजिया जुलूस की झांकी और अखाड़ा का हैरतंगेज प्रदर्शन देखने के लिए लोगों की भीड़ रात भर एक नंबर ट्राफिक से मुर्गियाचक तक जुटी रही। पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के बीच सोमवार की रात चेहल्लुम मेला संपन्न हुआ। मंगलवार की रात पुन: सभी इमामबाड़ों से ताजिया और शीपल के साथ अखाड़ा निकला। बुधवार की सुबह करबला में पहलाम संपन्न होगा। इसके लिए प्रशासन की ओर से सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया है। इस दौरान मिरगयासचक युवा क्लब की आेर से निकाले गए झांकी में ब्रहमोस मिसाइल का प्रदर्शन लोगों के बीच सबसे ज्यादा आकर्षण का केन्द्र रहा। झांकी में ब्रहमोस मिसाइल के साथ लिखा स्लोगन “ब्रहमोस मिसाइल से सेना दुश्मन को करेगा नेश्तानाबूद’’ लोगों के बीच सबसे ज्यादा आकर्षक रहा। इसी कमेटी द्वारा कोरोना वैक्सीन के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देश्य से झांकी में “कोरोना को मात देने के लिए वैक्सीन तो लगाना ही होगा’’ भी आकर्षक रहा। हाजीसुजान यूथ क्लब की ओर से “हुसैन का तीर लगा घोड़ा’’ की झांकी भी मुस्लिम समुदाय के लोगों के बीच आकर्षण का केन्द्र बनी रही।

जुलूस में अखाड़ा प्रदर्शन करते कमेटी के सदस्य।
जुलूस में अखाड़ा प्रदर्शन करते कमेटी के सदस्य।

मेले में महिलाएं भी हुईं शामिल | इसके अलावा कौड़ा मैदान यूथ क्लब का आकर्षक शीपल और जड़बेहरा यूथ क्लब द्वारा ताजमहल नुमा ताजिया भी लोगों को अपनी ओर आकर्षित कर रहा था। चेहल्लुम जुलूस के दौरान अखाड़ा जुलूस में शामिल युवा रात भर हैरतंगेज झांकी का प्रदर्शन किया। ताजिया जुलूस और अखाड़ा का प्रदर्शन देखने के लिए रात भर मेला सा माहौल रहा। मेला में मुस्लिम समुदाय की महिलाएं भी काफी संख्या में पहुंची थी। रात 10 बजे के बाद सभी इमामबाड़ा का ताजिया एक नंबर ट्राफिक चौंक से एक-एक कर मुर्गियाचक तक कतारबद्ध हुए। ताजिया जुलूस में बड़े बड़े रंगबिरंगे निशान (झंडा)भी साथ चल रहे थे। डीजे पर पाबंदी के कारण युवा ढोल और ढाक की धुन पर रात भर थिरकते नजर आए। बुधवार सुबह सभी इमामबाड़ा का ताजिया करबला में पहलाम होगा।

सीसीटीवी से भीड़ पर रखी गई निगरानी
चेहल्लुम पर निकलने वाले जुलूस के दौरान शांति एवं सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्रशासन की ओर से एक नंबर ट्राफिक से मुर्गियाचक तक पर्याप्त मात्रा में महिला व पुरूष पुलिस बल को दंडाधिकारी के नेतृत्व में तैनात किया गया था। साथ ही भीड़ पर निगरानी के लिए सभी चौंक पर सीसीटीवी कैमरा लगाया गया था। पहलाम के लिए एक नंबर ट्राफिक से लेकर कर्बला तक के निर्धारित रूट पर भी प्रशासन की ओर से सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया है। इस रूट पर भी जगह जगह सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है। चेहल्लुम जुलूस की निगरानी के लिए सोमवार की रात सदर अनुमंडल अधिकारी खुशबू गुप्ता, सदर डीएसपी नंदजी प्रसाद, वरीय उप समाहर्ता कुंदन कुमार, केंद्रीय पहलाम कमेटी के अध्यक्ष फैसल अहमद रूमी, सचिव जफर अहमद, महिला थानाध्यक्ष स्वयंप्रभा, पूरब सराय ओपी प्रभारी राजीव कुमार, रियाज अहमद, खान आफताब आलम, कायनात साहब, पप्पू यादव सहित समिति के दर्जनों लोग मेला की निगरानी करते नजर अाए।

खबरें और भी हैं...