पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:बंध्याकरण के दौरान महिला की आंत कटी, मायागंज रेफर, परिजनों का हंगामा

मुंगेर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सदर अस्पताल से रेफर होकर एंबुलेंस से भागलपुर इलाज के लिए जाती इलाजरत महिला। - Dainik Bhaskar
सदर अस्पताल से रेफर होकर एंबुलेंस से भागलपुर इलाज के लिए जाती इलाजरत महिला।
  • सदर अस्पताल में डॉक्टर की लापरवाही से हुई चूक, अब डाल रहे पर्दा
  • पहले भी चिकित्सकों की लापरवाही से गई हैं कई जानें, फिर भी चूक जारी

सदर अस्पताल में शुक्रवार को बंध्याकरण सर्जरी के दौरान एक महिला का स्मॉल इंटेस्टाईन (छोटी आंत) कट गया। जिसके बाद उक्त महिला को बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर कर दिया गया। घटना की जानकारी मिलते ही महिला के परिजनों ने सदर अस्पताल में सर्जरी करने वाली डॉक्टर निर्मला गुप्ता पर काम में लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। जानकारी के अनुसार सदर अस्पताल में शुक्रवार को कुल 18 महिलाओं का बंध्याकरण ऑपरेशन किया गया। जिसमें शहर के लालदरबाजा निवासी राजेश कुमार पासवान की पत्नी प्रगति देवी का भी बंध्याकरण ऑपरेशन अस्पताल की महिला चिकित्सक निर्मला गुप्ता द्वारा किया गया। परिजनों ने बताया कि ऑपरेशन के दौरान चिकित्सक द्वारा बताया गया कि प्रगति का चमरी मोटा है, स्टिच करने में दिक्कत हो रही है। थोड़ी देर बाद बताया कि ऑपरेशन के दौरान आंत कट गया था, जिसे स्टिच कर ठीक कर दिया गया है। ऑपरेशन के बाद प्रगति को वार्ड में एडमिट किया गया। देर रात नर्स ने बताया कि गलती से आंत कट गई है उसे बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर करना होगा। इसके बाद परिजनों ने महिला वार्ड के समीप बने एमटीएच सेंटर के पास हंगामा करना शुरू कर दिया। महिला के परिजन विक्की ने बताया कि न तो उसे कोई चिकित्सक देखने आया और न ही अधिकारी।

फैलोपियन ट्यूब कटने की आशंका
जहां एक तरफ बताया जा रहा है कि प्रगति का आंत कट गया था। तो दूसरी तरफ चिकित्सक अब उस महिला में दो कि जगह एक फैलोपियन ट्यूब होने की बात कह रहे हैं। आशंका है कि कहीं उक्त महिला की एक फैलोपियन ट्यूब ही ऑपरेशन के दरम्यान चूक में कहीं कट तो नहीं गई। जब कि मालूम हो कि उक्त महिला के दो बच्चे हैं। इन दोनों की डिलीवरी भी सामान्य रूप से हुई है।

ऑपरेशन करने वाली डॉ. से नहीं हुई बात

परिजनों ने कहा कि ऑपरेशन में अगर चूक हुई तो चिकित्सक रेफर करने के समय प्रगति को क्यों देखने नहीं आए। जबकि केवल नर्स से कह कर रेफर करवा दिया गया जो अस्पताल प्रशासन व चिकित्सक की लापरवाही है। मामले में जब डॉ. निर्मला गुप्ता से बात करने की कोशिश की गई तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया। जबकि ऑपरेशन के दौरान मौजूद एनेस्थिेटिक डा. पंकज सागर ने बताया कि आंत के पास दो फैलोपियन ट्यूब होती है। लेकिन प्रगति के आंत के पास एक ही फैलोपियन ट्यूब था। जो गलती से कट गया था। जिसे उसी समय चिकित्सक डा. निर्मला गुप्ता द्वारा स्टिच कर ठीक कर दिया गया था। घबराने की कोई बात नहीं थी। उसे बेहतर इलाज और ऑब्जवेशन के लिए मायागंज भेजा गया है।

गलती को समय से सुधार लिया गया
ऑपरेशन के दौरान कंप्लीकेशन आता है। प्रगति के केस में भी ऐसा ही कुछ आया। जिसे महिला चिकित्सक द्वारा ठीक कर लिया गया था। घबराने की कोई बात नहीं थी। चूक को ससमय सुधार लिया गया।
डॉ. रामप्रीत सिंह, उपाधीक्षक।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें