आस्था:कायस्थ समाज के आराध्यदेव भगवान चित्रगुप्त की हुई पूजा

मुरलीगंज25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
स्थापित भगवान चित्रगुप्त की प्रतिमा। - Dainik Bhaskar
स्थापित भगवान चित्रगुप्त की प्रतिमा।
  • पूजा समिति की ओर से भजन कीर्तन का हुआ आयोजन

प्रखंड के विभिन्न क्षेत्रों में कायस्थों के आराध्यदेव चित्रगुप्त भगवान की पूजा काफी धूमधाम से भक्तिमय वातावरण में मनाई गई। रामपुर व जोरगामा सहित अन्य जगहों पर कायस्थ समाज द्वारा चित्रगुप्त भगवान का प्रतिमा स्थापित किया गया तथा बड़े ही श्रद्धा भाव से अपने इष्ट देवता की पूजा-अर्चना की गई। रामपुर पंचायत के वार्ड-8 कायस्थ टोला मध्य विद्यालय रामपुर के समीप चित्रगुप्त पूजा बड़े ही श्रद्धा भाव से मनाया गया। चित्रगुप्त पूजा समिति द्वारा भजन कीर्तन का भी आयोजन करवाया गया। कार्तिक शुक्ल पक्ष द्वितीया को भगवान चित्रगुप्त तथा कलम-दवात की पूजा की जाती है। मान्यता है कि भगवान चित्रगुप्त ब्रह्मा जी का रूप हैं तथा ये मनुष्य के पाप पुण्य का लेखा जोखा रखते हैं। उनके अनुसार स्वर्ग लोक या यम लोक भेजते हैं। पृथ्वी पर कायस्थ उनके वंशज होते हैं। इसी कारण इस दिन समाज के सभी लोग पढ़ाई-लिखाई को विराम रखते हैं तथा भक्तिभाव से अपने इष्ट देव की पूजा करते हैं। मौके पर ब्रजेन्द्र लाल दास, दिवाकर लाल लाभ, भीमशंकर लाल दास, अरविंद लाल दास, राजेन्द्र लाल दास, विनोद वर्मा, बबलू वर्मा, नरेश वर्मा, पप्पू वर्मा, अमित वर्मा, सत्यम वर्मा, आनंद वर्मा सहित सभी कायस्थ समाज के लोग मौजूद थे। वहीं जोरगामा वार्ड-चार कायस्थ टोला में चित्रगुप्त महाराज की पूजा आराधना का आयोजन किया गया। कायस्थ युवाओं ने प्रतिमा स्थापित कर विधिवत पूजा अर्चना की। शनिवार को प्रातः 11 बजे वैदिक मंत्रोच्चार के साथ विधिवत पूजा अर्चना शुरू हुई। जोरगामा युवा चित्रगुप्त पूजा समिति के अध्यक्ष दीपक वर्मा, आलोक वर्मा, बिट्टू, निखिल वर्मा, सूरज, गोलू, रोशन, प्रवेश वर्मा, राकेश, रोहित, छोटू आदि सभी कायस्थ युवा सक्रिय रहे।

खबरें और भी हैं...