पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:सरकारी मरहम लगाने में प्रशासन का दावा फेल बाढ़ पीड़ितों को न पॉलीथिन शीट मिली, न ही सूखा राशन

नवगछिया14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लोकमानपुर गांव में फैला कोसी के बाढ़ का पानी।
  • कागजी कार्रवाई और बैठक में उलझी बाढ़ पीड़ितों की सहायता की कार्रवाई
  • अनुमंडल प्रशासन दर्जनों गांवों को घोषित कर चुका है बाढ़ग्रस्त, फिर भी राहत नहीं

बाढ़ आपदा को लेकर जिला प्रशासन की बाढ़ पूर्व तैयारी का असर बाढ़ प्रभावित इलाकों में कहीं देखने को नहीं मिल रहा है। सरकारी मरहम लगाने का प्रशासन का दावा फेल नजर आ रहा है। अनुमंडल प्रशासन अनुमंडल के दर्जनों गांवों को बाढ़ ग्रस्त घोषित भी कर चुका है, बावजूद सुविधाएं पीड़तों तक नहीं पहुंच रही हैं। बाढ़ पीड़ितों को अब तक कोई सरकारी सहयोग नहीं मिला। पीड़ितों के बीच न तो अब तक सूखा राशन और न ही पॉलीथिन सीट का वितरण किया गया है। पीड़ितों के लिए न ही अस्थाई शौचालय की व्यवस्था की गई है और न ही शुद्ध पेयजल के लिए चापाकल की व्यवस्था की गई है। जबकि इसके दावे पिछले पांच दिनों अनुमंडल के जिम्मेदार कर रहे हैं। बाढ़ की आपदा से निपटने को लेकर कागजों में आदेश-निर्देश दिए जा रहे हैं। पर वे जमीन पर कहीं नजर नहीं आ रहे हैं। अधिकारियों के आदेश कागजी कार्रवाई और बैठक में ही उलझी हुई है, इससे आगे नहीं बढ़ पा रही है। जबकि कोसी और गंगा नदी के जलस्तर में हुई वृद्धि के बाद अनुमंडल के दर्जनों गांव के लोग बाढ़ का दंश झेल रहे हैं। घर में बाढ़ का पानी घूस जाने से हजारों परिवार सड़क और बांध पर अपने बाल-बच्चों के साथ खाना बदोश की जिंदगी जीने को विवश हो गए हैं। एक सप्ताह से लोग बाढ़ की पीड़ा झेल रहे हैं। कोसी और गंगा नदी के बाढ़ से प्रभावित हजारों परिवार की जिंदगी सड़क और बांध पर सिसकियां भर रही हैं। इनकी सुध लेने वाला कोई नहीं है। रंगरा प्रखंड के मदरौनी पंचायत में आई कोसी नदी की बाढ़ से एक हजार परिवार बेघर होकर सड़कों पर रहने को विवश हैं। पंचायत के मुखिया अजीत सिंह उर्फ मुन्ना सिंह ने कहा कि एक हजार से अधिक परिवार प्रभावित है, लेकिन अभी कोई सरकारी सहायता नहीं मिली है। कोसी के बाढ़ से नवगछिया प्रखंड के पकरा टोला, भरोसा सिंह टोला, ठाकुर जी कचहरी टोला, गुरु स्थान, ढोलबज्जा दियरा सहित अन्य गांव के सैकड़ों परिवार बाढ़ का दंश झेल रहे हैं। लेकिन यहां किसी प्रकार की सहायता नहीं मिली है। खरीक प्रखंड के लोकमानपुर, सिहकुंड गांव भी कोसी की बाढ़ से प्रभावित हैं। पीड़ित परिवार बांध व सड़कों पर शरण लिए हुए हैं। नारायणपुर प्रखंड के तेलडीहा, बिहपुर के कहारपुर, गोविंदपुर, मुसहरी के हजारों परिवार बाढ़ से प्रभावित होकर खाना बदोश की जिंदगी जी रहे हैं। इसके अलावा गंगा नदी की बाढ़ से इस्माइलपुर प्रखंड के कई गांव बाढ़ का दंश झेल रहे हैं। अनुमंडल के सात हजार से अधिक बाढ़ पीड़ित परिवार अव्यवस्था के बीच अपनी किश्मत पर आंशु बहा रहे हैं।

एसडीओ ने दो दिनों के अंदर सुविधाएं मुहैया कराने का निर्देश भी बेकार गया
अनुमंडल पदाधिकारी ने 28 जुलाई को सभी सीओ के साथ बाढ़ को लेकर बैठक की थी। स्थिति से अवगत होने के बाद सभी सीओ को बाढ़ पीड़ितों के बीच तत्काल सूखा राशन वितरण करने का निर्देश दिया था। लेकिन निर्देश के बाद भी पीड़ितों के बीच किसी प्रकार की सरकारी मदद नहीं पहुंची। एसडीओ के दो दिनों के अंदर सुविधाएं मुहैया कराने का निर्देश भी बेकार गया।

बाढ़ पीड़ितों को दिया जा रहा है सूखा राशन : एसडीओ
एसडीओ मुकेश कुमार ने कहा कि बाढ़ पीड़ितों के बीच पॉलीथिन सीट व सूखा राशन वितरण शुरू कर दिया गया है। तेलडीहा, कहारपुर, लोकमानपुर में सुखा राशन का वितरण किया गया है। तेलडीहा में सीओ को सूची बनाने को भेजा गया है। जिन लोगों के घरों में बाढ़ का पानी आया है, उन लोगों को सूखा राशन मुहैया कराया जाएगा। कदवा व मदरौनी में भी बाढ़ पीड़ितों की सूची तैयार की जा रही है। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में सरकारी नाव की भी व्यवस्था हुई है।

कहारपुर में कोसी का कहर जारी, 7 घर गिरे
खरीक।
चारों ओर कोसी से घिरे हरियो पंचायत के कहारपुर गांव में कोसी का कहर जारी है। शनिवार को सात लोगों का कच्चे मकान पानी की तेज धारा के चपेट में आकर गिर गया। हालांकि कोई हताहत नहीं हुआ है। किन्तु लोगों बड़े पैमाने पर घर में रखे समान टूट-फूटकर कर बर्बाद गए। ग्रामीण सनातन सिंह, शिवशक्ति सिंह, देवांशु सिंह, सन्नी सिंह ने बताया कि कोसी की तेज धारा के कारण फूलेश्वर शर्मा, अंबिका शर्मा, सियाराम यादव, शंकर यादव, लूचो शर्मा, ब्रजेश यादव, दिलीप शर्मा, कैलाश शर्मा का कच्चा मकान गिर गया। ये लोग अब टेंट लगाकर कर रहने को विवश हैं।

ढोड़िया-दादपुर तटबंध की स्थिति जर्जर
खरीक।
कोसी किनारे बने ढोड़िया-दादपुर जमीनदारी तटबंध पर नदी के पानी की दबाव से खतरा मंडराने लगा है। जो कभी भी ध्वस्त हो सकता है। शनिवार को पंचायत के उप मुखिया सह युवा नेता ई. चंदन कुमार यादव तटबंध की भयावह को देखा। डीएम से शीघ्र आवश्यक पहल करने मांग की।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - धर्म-कर्म और आध्यामिकता के प्रति आपका विश्वास आपके अंदर शांति और सकारात्मक ऊर्जा का संचार कर रहा है। आप जीवन को सकारात्मक नजरिए से समझने की कोशिश कर रहे हैं। जो कि एक बेहतरीन उपलब्धि है। ने...

और पढ़ें