नि:शुल्क ऑक्सीजन सिलेंडर:10 साल की बच्ची ने कहा-कंधे पर पापा के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर ले जाऊंगी, आई दया, सोचा-कमाई बाद में; अभी तो जिंदगी बचाना बड़ा काम

भागलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बरारी स्थित प्लांट में ऑक्सीजन लेने के लिए पहुंचे परिजन। - Dainik Bhaskar
बरारी स्थित प्लांट में ऑक्सीजन लेने के लिए पहुंचे परिजन।
  • कोविड पॉजिटिव रिपोर्ट दिखाने पर रोजाना 150 कोरोना मरीजों के लिए नि:शुल्क ऑक्सीजन सिलेंडर रिफिल कर रहे ओपी सिंह

बरारी स्थित पाटलीपुत्र गैस प्लांट के मालिक ओपी सिंह न सिर्फ सफल उद्योगपति हैं, बल्कि दिल से भी उतने ही अमीर हैं। काेराेना में ऑक्सीजन की जरूरत काे देखकर वह प्रतिदिन करीब डेढ़ सौ लोगों को मुफ्त में ऑक्सीजन सिलेंडर दे रहे हैं। उनके प्लांट के गेट पर दिनभर मुफ्त ऑक्सीजन लेने वाले जरूरतमंद जमा रहते हैं। अभी वे प्लांट में 24 घंटे ऑक्सीजन तैयार करवा रहे हैं ताकि अपने इलाके में लोगों को आक्सीजन की कमी नहीं रहे। मुफ्त में ऑक्सीजन लेने के लिए बस आधार कार्ड और मरीज के कोविड पॉजिटिव होने की पर्ची दिखानी होती है।

3 हजार सिलेंडर मुफ्त में कर चुके हैं रिफिल

ओपी सिंह ने बताया कि एक बार वह प्लांट से बाहर निकल रहे थे तभी भीड़ के बीच उनकी नजर एक 10 साल की बच्ची पर पड़ी। वह अपने कोरोना पीड़ित पिता की जिंदगी बचाने के लिए जल्द ऑक्सीजन सिलेंडर की रिफिलिंग के लिए गुहार लगा रही थी। मैंने उस बच्ची काे बुलाकर पूछा कि तुम सिलेंडर लेने क्याें आई हाे। क्या घर में काेई बड़े नहीं हैं? इस पर बच्ची ने कहा कि घर में केवल मेरे पापा हैं। काेराेना के कारण वह बेड पर हैं। इसलिए मैं सिलेंडर लेने आई हूं। मैं कंधे पर सिलेंडर ले जाकर पापा की जान बचाऊंगी।

ओपी सिंह ने कहा कि अमूमन प्लांट में सिलेंडर चेंज नहीं करते हैं। उसे भर कर देते हैं। लेकिन उस बच्ची को स्टॉक से फुल सिलेंडर दे दिया और रिक्शा भी कर दिया। बच्ची ऑक्सीजन के बदले पैसे देने लगी। मैंने वापस कर दिया और उसी दिन से नियम बना दिया कि जो भी कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन की मांग करेगा उसे मैं फ्री में दूंगा। अब तक 3000 सिलिंडर मुफ्त में भरकर दे चुका हूं। कमाई तो जिंदगी भर होती रहेगी। अभी संकट का दौर है। लोगों की जिंदगी बचाना प्राथमिकता है।

पटना, मुजफ्फरपुर और औरंगाबाद में भी हैं इनके प्लांट

ओपी सिंह मूलतः सीवान के रहने वाले हैं। उनका प्लांट भागलपुर, पटना, औरंगाबाद और मुजफ्फरपुर में है। वह एनटीपीसी (बिहार व झारखंड) व रेलवे कारखाना को ऑक्सीजन देने वाले बड़े सप्लायर हैं। 90 फीसदी निजी हॉस्पिटल में उनके प्लांट का ऑक्सीजन जाता है।

ऑक्सीजन मिशन में लगे श्री श्याम भक्त मंडल न्यास को भी दे रहे गैस

कोरोना संक्रमण से जूझ रही जिंदगियों को बचाने के मुहिम में लगे श्री श्याम भक्त मंडल न्यास की टीम को भी ओपी सिंह मुफ्त में आक्सीजन उपलब्ध करा रहे हैं। प्रबंध न्यासी प्रभात केजरीवाल व उपप्रबंध न्यासी सुरेश मोहता ने बताया कि सिंह के सहयोग से ही वे लोग समाज में जरूरतमंदों तक संस्था की तरफ से मदद पहुंचा पाने में सक्षम हो पा रहे हैं। पिछले कोरोना संक्रमण के दौर से ही न्यास मानव सेवा की इस मुहिम में लगा हुआ है। बताया कि, आज सबसे बड़ी जरूरत आक्सीजन की उपलब्धता है और अगर इस दिशा में न्यास कुछ कर पा रहा है तो यह मानव होने का कर्तव्य मात्र है।

खबरें और भी हैं...