लोक अदालत:लोक अदालत में 1183 मामले निबटे सहमति से 11.48 करोड़ का समझौता

भागलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम का उद्घाटन करते जिला जज शिव गाेपाल मिश्र, डीएम व एसएसपी। - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम का उद्घाटन करते जिला जज शिव गाेपाल मिश्र, डीएम व एसएसपी।

करीब 16 माह बाद फिजिकल मोड में हुए राष्ट्रीय लोक अदालत में शनिवार को 1183 लंबित मुकदमों का निबटारा किया गया। जिले के तीनों सिविल कोर्ट में संचालित लोक अदालत में आपसी सहमति से 11.48 करोड़ रुपए का समझौता भी कराया गया। लोक अदालत की सबसे बड़ी उपलब्धि कोरानाकाल में लंबित मोटर दुर्घटना केस के क्लेम का निबटारा किया जाना भी रहा।

64 मोटर दुर्घटना केस का निष्पादन आपसी सहमति से किया गया। इसमें 5.72 करोड़ का क्लेम लाभुकों को दिलाया गया। परिवार न्यायालय में लंबित एक मामले का भी निष्पादन किया गया। पीठासीन पदाधिकारी एडीजे रोहित शंकर की बेंच ने दो साल से लंबित पति-पत्नी के विवाद को खत्म कराया और दोनों पक्षों के बीच सुलह कराकर दोनों को बच्चों के साथ घर राजी-खुशी घर वापस कराया। लोक अदालत में न्यायालय में लंबित सुलहनीय आपराधिक 96 केस का निष्पादन किया गया। इसमें 48 हजार 600 रुपए का सुलह कराया गया। बिजली के 56 मामलों का निष्पादन हुआ।

इसमें पक्षकारों के बीच 37,97,459 रुपए की राशि का सुलह कराया गया। बीएसएनएल के 12 मामलों का निष्पादन हुआ। इसमें 44,779 रुपए की राशि का सुलह कराया गया। मजदूरी विवाद से जुड़े 9 मामलों के निष्पादन में 25 हजार रुपए की राशि का सुलह कराया गया। बैंको से जुड़े 945 मामलों का निष्पादन किया गया। इसमें 5 करोड़ 36 लाख 2 हजार 409 का विवाद समझौता के तहत सुलह कराया गया।

खबरें और भी हैं...