पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • 49 Ghats Started To Decorate, 2 Dangerous In The List Of Administration, Corporation Will Give Gangajal To Worshipers At Home

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शहर के पांच प्रमुख घाटों पर क्या है तैयारी:संवरने लगे 49 घाट, प्रशासन की सूची में 2 खतरनाक अब घर में पूजा करने वालों को निगम देगा गंगाजल

भागलपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
दीपनगर घाट की सफाई पूरी हो गई। अब घाट सजकर तैयार होगा।
  • बरारी पुल घाट सबसे खराब, संवारने में निगम के साथ जुटे स्मार्ट सिटी के इंजीनियर
  • इस बार सबसे सुंदर और लंबा मानिक सरकार घाट

शहर के 49 छठ घाटों को बनाने की शुरुआत बुधवार को नगर निगम ने की। हनुमान घाट और बरारी वाटर वर्क्स के दो घाटों को खतरनाक भी घोषित किया। इतना ही नहीं, घरों में छठ करने वालों को भी निगम शहर के नौ चौक-चौराहों पर टैंकर से हर परिवर को दो लीटर गंगाजल उपलब्ध कराएगा। गंगाजल बाबूपुर मोड़ से लाया जाएगा। इसके लिए निगम के दो इंजीनियरों ने इंजीनियरिंग कॉलेज व डीपीएस स्कूल के पास गंगा नदी का मुआयना भी किया। उन्होंने स्वच्छता देखकर बाबूपुर मोड़ के पास से जल लेने का फैसला लिया। घाटों से दलदली मिट्‌टी हटाई जा रही है। सफाई जोरों पर है। इस बार सबसे लंबा व सुंदर घाट मानिक सरकार में बन रहा है। यहां कोरोना से बचाव के लिए सैनिटाइजेशन टनल और श्रद्धालुओं को पैक्ड प्रसाद देने की तैयारी चल रही है।

माणिक सरकार घाट
शहर का सबसे सुंदर और लंबा घाट इस बार यही बनेगा। यहां मिट्‌टी दलदली नहीं है। गंदगी और पानी का संकट भी नहीं है। घाट किनारे 4 फीट पानी है। गहराई माप कर खतरे का निशान लगाया जाएगा। बैरिकेडिंग भी होगी। जाेनल प्रभारी मनाेज कुमार चाैधरी पूजा समिति के साथ मिलकर साेशल डिस्टेंसिंग के लिए भी निशान लगाएंगे। मेन राेड से 70 फीट दूर यह घाट करीब 500 फीट लंबा होगा।
दीपनगर घाट
इस घाट पर सफाई का जिम्मा लाेक शिकायत निवारण शाखा प्रभारी अादित्य जायसवाल का है। उन्होंने मजदूरों से सफाई शुरू करवाई। छठ पूजा समिति के छाेटू व अन्य सदस्याें ने भी घाट तैयार किया है। हालांकि यहां मछुआराें ने नदी में जाल लगाया था। इससे पानी के साथ गंदगी भी रूकी हुई थी। गंदगी और दुर्गंध से यहां व्रतियाें काे परेशानी हाेगी। निगम चूना अाैर ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव करेगा।
बूढ़ानाथ घाट
यहां गंगा किनारे दलदली मिट्टी है। उपरी सतह पर अंग सेवा समिति ने सफाई की है। गंगा किनारे काम बाकी है। समिति सदस्य अभय घाेष साेनू ने बताया, यहां सैनिटाइजेशन टनल लगेगा। सैनिटाइजर, मास्क व दूध बांटे जाएंगे। व्रतियाें के लिए घाट पर ही पूजा के बाद पारन यानी दही-पेड़ा खिलाने की व्यवस्था रहेगी। इस बार भाेग खुले में खिलाने की बजाय पैक कर श्रद्धालुओं काे दिए जाएंगे। यहां उपनगर आयुक्त प्रफुल्ल चंद्र यादव ने जायजा लिया। उन्होंने दलदली मिट्टी समतल करने के निर्देश दिए।
बरारी पुल घाट
सबसे खतरनाक पुल घाट है। तीन दिन से लगातार निगम की टीम यहां दलदली मिट्टी हटा रही है। लेकिन सफलता नहीं मिल रही। अब इस में स्मार्ट सिटी के टेक्निकल मैनेजर काे निगरानी का जिम्मा दिया है। बुधवार काे दलदली मिट्टी से श्रद्धालुओं काे परेशानी हुई। शुक्रवार सुबह तक यहां का गाद पूरी तरह खत्म नहीं हाे सकेगा। पाेकलेन व जेसीबी का इस्तेमाल किया जा रहा है।
चंपानगर घाट
यहां घाट पर ज्यादा गंदगी है। पुल के नीचे पानी कम है। जमा पानी में ही अर्ध्य देना होगा। जोनल प्रभारी पुर्णेंदू झा को यहां सफाई का जिम्मा मिला है। लेकिन जमा हुए पानी अाैर नाले का पानी सीधे यहां मिल रहा है। हालांकि बांका में चांदन डैम से पानी छाेड़ने पर पानी के फ्लाे आने से यह संकट दूर हाेगा। लेकिन पानी पहुंचने में ही एक दिन लगेगा।

मेयर-डिप्टी मेयर ने देखी व्यवस्थाएं, दिए निर्देश
मेयर सीमा साहा, डिप्टी मेयर राजेश वर्मा ने प्रमुख छठ घाटाें का जायजा लिया। उन्होंने नाथनगर, चंपानगर, बूढ़ानाथ, उपकार क्लब, दीपनगर, माणिक सरकार व आदमपुर घाट पर चल रही तैयारियां देखी। उन्होंने कहा, इस बार करीब सभी घाट बेहतर हैं। जहां कमी है, उसे दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं। शुक्रवार को सभी घाट तैयार हांेगे। श्रद्धालुओं को परेशानी नहीं होगी। माैके पर भाजपा के कार्यकारी जिलाध्यक्ष संतोष कुमार, इंदुभूषण झा व पूजा समिति सदस्य भी माैजूद थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें