पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वायरल फीवर का प्रकोप:मायागंज अस्पताल में वायरल फीवर वाले 8 मरीज भर्ती बच्चों के 60 में 57 बेड फुल, सभी पीएचसी अलर्ट पर

भागलपुर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मायागंज अस्पताल के शिशु इंडोर वार्ड में भर्ती बच्चे। - Dainik Bhaskar
मायागंज अस्पताल के शिशु इंडोर वार्ड में भर्ती बच्चे।
  • अब बुखार के साथ बच्चों की सांस फूलने की शिकायतें आ रहीं सामने, आज बनेगा अलग वायरल वार्ड

मायागंज अस्पताल के इमरजेंसी शिशु वार्ड में 8 नए बच्चों में वायरल फीवर की शिकायत मिली। इसमें तीन की सांस फूल रही थी। लगातार बढ़ रहे मरीजों के बीच शिशु विभाग के बेड फुल हो रहे हैं। 60 बेड के जनरल वार्ड में 57 बच्चे भर्ती हैं। अब तीन बेड ही बाकी हैं।

31 बच्चों को वायरल फीवर था, जबकि 36 बेड के एसएनसीयू में 32 नवजाताें का इलाज चल रहा है। इमरजेंसी के शिशु वार्ड में 8 बच्चाें में 5 को वायरल फीवर था। इधर, अस्पताल प्रबंधन ने सोमवार से वायरल फीवर वार्ड बनाने की तैयारी की है। यह शिशु विभाग के ही इंडाेर में बनेगा।

यहां पहले ही ऑक्सीजन पाइपलाइन का काम हो चुका है। अब वार्ड अटेंडेंट व नर्सिंग स्टाफ की तैनाती होगी। सीएस डाॅ. उमेश शर्मा ने सभी पीएचसी के डाॅक्टराें काे वायरल फीवर पर अलर्ट रहने काे कहा है। जैसे ही बच्चे पीएचसी आएंगे, उन्हें प्राथमिक उपचार देकर मायागंज रेफर किया जाएगा।

सिर्फ वायरल बुखार के भराेसे न रहें: एचओडी
शिशु रोग विभाग के एचओडी डॉ. केके सिन्हा ने बताया, फेफड़े में संक्रमण का कारण निमोनिया भी है। सिर्फ वायरल बुखार ही नहीं हाेता, बल्कि निमोनिया, इंसेफेलाइटिस, मेनेंजाइटिस, कोरोना, टायफाइड व डेंगू भी हो सकते हैं। इसलिए सभी डाॅक्टराें गंभीरता से जांच व इलाज करने के निर्देश दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...