पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दो दिवसीय बैठक:टिश्यू कल्चर से अनानास के पाैधे बनाने की तकनीक काे स्वीकृति

भागलपुर5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीएयू में 21वीं शोध परिषद की बैठक में धान की दाे नई किस्म की अनुशंसा

बीएयू में 21वीं शोध परिषद खरीफ 2021 की दो दिवसीय बैठक का गुरुवार काे समापन हुअा। इसमें धान के दाे नए प्रभेद की अनुशंसा की गयी। इसमें एक निचली जमीन पर लगाने के लिए बेहतर है। वहीं दूसरा प्रभेज बायाेफाॅर्टिफाइड है। अनानास के टिश्यू कल्चर पाैधे काे तैयार करने की तकनीक काे भी स्वीकृति दी गई। मौसम अनुकूल अनुसंधान पर विशेष ताैर पर काम करने पर सहमति बनी।

सह निदेशक अनुसंधान डाॅ. फिजा अहमद कहा कि संस्थान फसल सुधार, प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन, फसल सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है। विवि में 431 अंतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय, राज्य सरकार व निजी संस्थानों के वित्तपोषित परियोजनाओं का संचालन किया जा रहा है। शोध गतिविधियों को अंतर्राष्ट्रीय मानक के पटल पर खरा उतारने के लिए सेंट्रल इन्स्ट्रूमैनटेशन फैसिलिटी प्रदान की गई है।

बैठक में ऑनलाइन शामिल हुए कई विवि के वैज्ञानिक
बैठक की अध्यक्षता कुलपति डाॅ. आरके साेहाने ने किया। मुख्य अतिथि बिरसा कृषि विश्वविद्यालय रांची के कुलपति डाॅ. ओएन सिंह व सीआरआईडीए हैदराबाद के निदेशक डाॅ. विनोद कुमार सिंह, कृषि प्रसार शिक्षा बांदा कृषि विश्वविद्यालय बांदा यूपी के निदेशक डाॅ. एनके सिंह, आईएआरआईए के पूर्व प्रधान वैज्ञानिक डाॅ. एफयू जमान, एनआरआआई कटक के प्रधान वैज्ञानिक डाॅ. एके नायक व जीबीपीयूटी पंतनगर के प्रधानाध्यापक डाॅ. एके तिवारी प्राध्यापक इससे वर्चुअल माेड में जुड़े।

खबरें और भी हैं...