हत्या का मामला:भागलपुर में बांका की बेटी की दहेज के लिए हत्या, ससुर ने आरोपों का किया खंडन

भागलपुर /बांका13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक साल पहले वंदना की शादी खरबा निवासी ड्राइवर धर्मदास से हुई थी

नवादा (बांका) ओपी क्षेत्र के खरबा गांव निवासी वंदना देवी (19) की संदिग्ध हालत में मौत हो गई। एक साल पहले वंदना की शादी खरबा निवासी ड्राइवर धर्मदास मंडल उर्फ विकास से हुई थी। वंदना का मायका इशाकचक के बी टोला में है और उसके पिता का नाम रामदेव तांती है, जो टेंट हाउस में मजदूरी करते हैं। मृतका के पिता का आरोप है कि दहेज के लिए उनकी बेटी को दामाद ने पीटा, जिससे उसकी मौत हो गई। वंदना का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा था। तिलकामांझी पुलिस ने मृतका के परिजनों का बयान लेकर नवादा पुलिस को भेज दिया है। पिता का कहना है कि 30 दिसंबर को उनकी बेटी के साथ ससुराल में दामाद ने मारपीट की थी। बेटी के ससुराल पहुंचा और उसे लेकर भागलपुर आया। डॉक्टरों से दिखाया। गला दबने के कारण बेटी बोल नहीं पाई थी। बुधवार को अचानक तबीयत बिगड़ गई। पिता का कहना है कि बाइक और दहेज की मांग को लेकर दामाद दबाव बना रहा था।

ससुर ने कहा-भूत पिशाच ने बहू का मारा
मृतका के ससुर जलधर मंडल का कहना है कि उनकी बहू को भूत-पिशाच ने मारा है। उन्होंने समधी के लगाए आरोप को निराधार बताया है। कहा कि कभी भी वंदना के साथ ससुराल में मारपीट नहीं हुई। दहेज की मांग भी गलत है।

खबरें और भी हैं...