पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • Corona Investigation Needs To Be Expedited, Software Made By Triple IT Can Give 10,000 Reports Daily, But Not Yet Recognized

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अड़चन:कोरोना जांच में तेजी जरूरी, ट्रिपल आईटी के बनाए सॉफ्टवेयर रोज 10 हजार रिपोर्ट दे सकते हैं पर अब तक नहीं मिली मान्यता

भागलपुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • आईसीएमआर को भेजी गई है सॉफ्टेवयर की पूरी जानकारी, अब है स्वीकृति का इंतजार

जिले में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या और संक्रमण रोकने के लिए सरकार लगातार जांच बढ़ाने को कह रही है। इसके बावजूद कभी 1000 तो कभी 644 जांच ही हो पा रही है। नए मरीजों के मिलने और जांच के बीच ट्रिपल आईटी का कोरोना डिटेक्ट करने को बना सॉफ्टवेयर बेहद कारगर बताया जा रहा है। बिना किसी किट के ही इस सॉफ्टवेयर से एक दिन में 10 हजार से भी ज्यादा मरीजों की न सिर्फ जांच की जा सकती है, बल्कि तत्काल यह बताया जा सकता है कि मरीज कोरोना संक्रमित है या नहीं।

लेकिन यह तकनीक इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के पास लंबित है। अब तक इसे मान्यता नहीं दी जा सकी है। दो बार इस तकनीक को स्वीकृत करवाने के लिए ट्रिपल आईटी ने आईसीएमआर को भेजा है पर इस पर फिलहाल कोई फैसला नहीं हो सका है। इतना ही नहीं, ट्रिपल आईटी को भी इसकी जानकारी नहीं है कि आखिर इसे मान्यता क्यों नहीं दी गई और कब तक दी जाएगी। बता दें कि आईसीएमआर ने पहले मिले इस सॉफ्टवेयर को दाेबारा दूसरे फॉर्मेट में भेजने को कहा था। प्रबंधन ने इसे दोबारा भेजा है। अब नए सिरे से अधिक डाटा बेस पर इसकी जांच होगी।

महज 3-4 मिनट में ही होती सैकड़ों जांच
ट्रिपल आईटी से मिली जानकारी के अनुसार, इस तकनीक से महज तीन-चार मिनट में ही सैकड़ों जांच हो सकती है। प्रति मिनट 10 जांच के अनुसार ही रोजाना महज 8 घंटे में ही 4800 लोगों की रिपोर्ट दी जा सकती है। इससे न सिर्फ समय बचता, बल्कि मरीज की पहचान कर संक्रमण को समय से पहले ही फैलने से रोका जा सकता है।

अभी 24 से 36 घंटे में आती है रिपाेर्ट | मायागंज, पीएचसी और सदर अस्पताल में रैपिड एंटीजन किट से जांच होने पर रिपोर्ट आ रही है, लेकिन यह मरीजों को 24-36 घंटे बाद मिल रही है। ट्रिपल आईटी के सॉफ्टवेयर से 100 रुपए में सिर्फ डिजिटल एक्स-रे से पता लगाया जा सकता है कि मरीज कोरोना संक्रमित है या उसे सर्दी-जुकाम है। ट्रिपल आईटी के निदेशक प्रो. अरविंद चौबे ने बताया कि सॉफ्टवेयर की रिपोर्ट आईसीएमआर को भी भेजी थी। वहां से एक बार क्वेरी अाई। उसे हमने दूर कर दिया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser