बिजली कंपनी ने किया आगाह:शहरवासियों को बिजली कनेक्शन काटने का मैसेज भेज रहे साइबर ठग

भागलपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
साइबर ठग द्वारा भेजा जा रहा है मैसेज। - Dainik Bhaskar
साइबर ठग द्वारा भेजा जा रहा है मैसेज।

अगर आपके मोबाइल पर 8219251631 या किसी अन्य नंबर से टेक्स्ट या व्हाट्सएप मैसेज से पिछले महीने का बिल अपडेट नहीं होने पर रात 9:30 बजे से गुल होने की सूचना आ रही है तो इससे बचने के लिए तुरंत 8777534470 पर संपर्क करें।

अगर ऐसा मैसेज आता है तो सतर्क हो जाएं। क्योंकि इस तरह का मैसेज साइबर ठग भेज रहे हैं। ऐसा कोई मैसेज बिजली कंपनी नहीं भेजती है। इन दिनों शहरी उपभोक्ताओं को साइबर ठगों द्वारा कभी स्मार्ट मीटर तो कभी बिजली कनेक्शन काटने के लिए लगातार एसएमएस आ रहे हैं। जिससे उपभोक्ता मानसिक तनाव में हैं।

यह एसएमएस पहले स्मार्ट मीटर के बिल जमा नहीं करने को लेकर आते थे। अब एसएमएस व्हाट्सएप के माध्यम से बिजली बिल अपडेट करने के नाम पर आ रहे हैं। लोगों का कहना है कि यह मैसेज ज्यादातर सुबह के समय में आता है। इस मैसेज को लेकर बिजली कंपनी के अधिकारियों का कहना है कि ऐसा कोई मैसेज बिजली कंपनी अपने उपभोक्ताओं को नहीं करती है।

ऐसा मैसेज आने पर अपने नजदीकी विद्युत केंद्र पर संपर्क करें। साथ ही ऐसे मैसेज आने पर सतर्क रहें। बिजली कंपनी ने मुख्यालय स्तर पर ऐसे साइबर फ्रॉड मैसेज को रोकने के लिए साइबर सेल को पत्र लिखा है, ताकि उपभोक्ताओं को इससे बचाया जा सके।
साइबर ठगों से बचने के लिए ये करें
साइबर ठगों से बचने के लिए ये करें
1. ऐसे मैसेज को लेकर बिजली कंपनी उपभोक्ताओं को सूचित करती है कि स्मार्ट मीटर का बैलेंस तीन दिन तक नहीं रहने के बाद बिजली काटी जाती है।
2. स्मार्ट मीटर के लिए बिजली कनेक्शन काटने का समय सुबह 10 से दोपहर एक बजे तक है। साप्ताहिक छुट्टी के दिन ऐसा कार्य नहीं होता है।
3.ऐसे मैसेज जालसाज द्वारा किया जाता है। कभी ऐसे मैसेज पर उस मोबाइल नंबर पर सम्पर्क न करें।
4. बिजली कंपनी की ओर से मैसेज में किसी प्रकार का नंबर नहीं दिया जाता है।
5. ऐसे मैसेज आने पर उसमें दिए गए किसी भी लिंक को क्लिक न करें
6. किसी भी प्राइवेट अकाउंट में पेमेंट न करें।
7. अगर ऐसा मैसेज आपको आता है तो इसके लिए नजदीक के विद्युत विभाग से संपर्क करें।
8.अगर ऐसा कोई फ्रॉड आपके साथ हुआ है तो तुरंत नजदीकी थाने में संपर्क करें।
फ्रॉड को रोकने के लिए मुख्यालय के साइबर सेल को पत्र लिखा गया है
बिजली कंपनी ऐसा कोई मैसेज नहीं करती है, अगर आपको ऐसा मैसेज आता है तो इसको लेकर आप अपने नजदीक के विद्युत विभाग से संपर्क कर इसके बारे में जानकारी लें। साथ ही ऐसे मैसेज को लेकर सतर्क रहें। ऐसे फ्रॉड को रोकने के लिए बिजली कंपनी ने मुख्यालय स्तर पर साइबर सेल को पत्र लिखा है।
-प्रकाश झा, विद्युत कार्यपालक अभियंता (शहरी क्षेत्र )

खबरें और भी हैं...