पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टीका लेनेवालाें के बारे में छानबीन:डाॅक्टरों ने ड्राइवर, मैनेजरों ने रिश्तेदारों व चालक ने पत्नी काे लगवाया टीका

भागलपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मामला सामने आने के बाद छानबीन में जुटा स्वास्थ्य विभाग
  • मायागंज में अधीक्षक ने डाॅक्टराें व मैनेजराें के साथ की बैठक
  • 5 अस्पतालाें के डाटा ऑपरेटराें का एक माह का वेतन काटा

स्वास्थ्य विभाग के पास हेल्थ व फ्रंटलाइन वर्कराें की जगह पर अपने नाते-रिश्तेदाराें व मित्राें काे काेराेना का टीका दिलवाने का मामला सामने आया है। जानकारी मिली है कि कई बड़े डाॅक्टराें ने अपने ड्राइवर काे टीका लगवा दिया है।

दाे हेल्थ मैनेजराें में एक ने अपनी पत्नी ताे दूसरे ने अपने पति काे वैक्सीन दिलवा दी है। एक एंबुलेंस चालक ने अपनी पत्नी काे टीका लगवा दिया है। ये लाेग न ताे हेल्थ वर्कर हैं और न ही फ्रंट लाइन वर्कर। अब विभाग इसकी छानबीन कर रहा है। मामला सामने आने के बाद गुरुवार काे मायागंज अस्पताल के अधीक्षक डाॅ. अशाेक कुमार भगत ने हेल्थ मैनेजराें व डाॅक्टराें के साथ बैठक की। जिसमें कहा गया कि अब जाे भी टीका लेंगे, उनका रजिस्ट्रेशन तय मानक के अनुसार हर हाल में हाेना चाहिए। जिला प्रतिरक्षण कार्यालय में भी हेल्थ वर्कर या फ्रंटलाइन वर्कर के नाम पर टीका लेनेवालाें के बारे में छानबीन की गयी।

निगम में बिना रजिस्ट्रेशन टीका लगवाने का प्रयास
दूसरी ओर सिविल सर्जन डाॅ. विजय कुमार सिंह ने निगम प्रशासन काे पत्र भेजकर जबाव मांगा है कि बिना रजिस्ट्रेशन के किस आधार पर फ्रंटलाइन वर्कर की जगह पर किसी सामान्य व्यक्ति काे टीका दिया गया। नगर निगम में भी बिना रजिस्ट्रेशन कराए टीका दिलाने का बुधवार काे प्रयास किया पर नर्सिंग स्टाफ ने साफ इनकार कर दिया। इस वजह से वहां टीका नहीं लगाया जा सका। प्रखंड के अस्पतालाें में भी इस तरह से टीक लगवाए जाने का मामला सामने आया है।

काेराेना की सैंपलिंग में एकक ही माेबाइल नंबर का इस्तेमाल करने के मामले में स्वास्थ्य विभाग ने कार्रवाई शुरू कर दी है। अस्पताल प्रभारियाें की जांच रिपाेर्ट पर माेबाइल नंबर की जगह शून्य बैठाने वाले पांच अस्पतालाें के करीब 20 डाटा ऑपरेटराें का एक महीने का वेतन काटने का निर्देश सीएस डाॅ. विजय कुमार सिंह ने दिया है। सीएस ने निर्देश दिया है कि रेफरल अस्पताल पीरपैंती, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नारायणपुर, जगदीशपुर, बिहपुर, अनुमंडलीय अस्पताल कहलगांव के सभी डाटा ऑपरेटराें के वेतन में दंड के रूप में यह कटाैती हाेगी।

सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियाें काे ऐसे ऑपरेटराें काे चिह्नित कर कठाेर कार्रवाई की अनुशंसा भेजने काे भी कहा है। सीएस डाॅ. विजय सिंह ने बताया कि अभी 600 सैंपलिंग यह पाया गया है कि ज्यादातार में एक ही माेबाइल नंबर डाला गया है। अभी तीन अफसर यह जांच कर रहे हैं कि और कितने मामलाें में ऐसा हुआ है। इसके बाद आगे कार्रवाई हाेगी।

डाटा ऑपरेटराें ने कहा-सीनियर के निर्देश पर ही ऐसा किया था
हालांकि कुछ डाटा ऑपरेटराें ने बताया है कि सीनियर अधिकारियाें के माैखिक निर्देश के पर ही ऐसा किया गया है। जब काेराेना जांच का टारगेट एक अस्पताल काे चार से पांच साै दिया जाता था, उस वक्त जगह-जगह कैंप लगाकर सैंपल लिए जा रहे थे। टारगेट पूरा नहीं करने पर वेतन बंद व काम से हटाने तक की चेतावनी दी जाती थी। कई लाेग माेबाइल नंबर नहीं देते थे। उस स्थिति में स्टाफ का माेबाइल नंबर ही डाला गया। क्याेंकि नंबर डालना अनिवार्य था। इस मामले में केवल निचले स्तर के कर्मचारियाें पर ही कार्रवाई हाे रही है, जाे उचित नहीं है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें