पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

हालात:सालभर में भी कंपनी नहीं बढ़ा पाई ट्रांसफार्मरों की क्षमता भीषण गर्मी में शहर के 50 से अधिक माेहल्लाें में लाे वाेल्टेज

भागलपुर22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

पिछले एक साल से मेंटेंनेंस के काम में जुटी बिजली कंपनी शहर में लो-वोल्टेज की समस्या दूर नहीं कर पा रही है। शहर में 50 से अधिक माेहल्लाें में यह समस्या है। इन जगहाें पर ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाने की जरूरत है, लेकिन बिजली कंपनी यह काम नहीं कर पा रही है। नजीजा यह है कि इन मुहल्लाें में भीषण गर्मी में ठीक से पंखे तक नहीं चल रहे हैं। पानी का माेटर नहीं चलने से लाेग पीने का पानी खरीदकर ला रहे हैं। कई माेहल्लाें में लाेग अगल-बगल से पानी की व्यवस्था करते हैं। प्याऊ से पानी भरकर लाते हैं। फ्रिज नहीं चलने से लाेग ठंडा पानी पीने काे तरस गए हैं।

महिलाएं किचन में मिक्सी नहीं चला पा रही हैं। बिजली के काेई उपकरण काम नहीं कर रहे हैं। भीषण गर्मी में इस समस्या से परेशान हाेकर लाेग बिजली कार्यालय में हंगामा भी करने लगे हैं। मंगलवार काे भी लाे वाेल्टेज से परेशान हाेकर हसनगंज के लाेगाें ने माेजाहिदपुर बिजली कार्यालय में हंगामा कर दिया था। लाे वाेल्टेज के कारण लाेग माेटर चलाने के लिए रतजगा करते हैं। रातभर इसी ताक में रहते हैं कि कब वाेल्टेज बढ़े कि वे माेटर चलाएंगे।

जर्जर तार के कारण भी संकट, लाइन लाॅस भी हाे रहा
लो वोल्टेज की समस्या के पीछे केवल कम क्षमता का ट्रांसफार्मर ही नहीं है। जर्जर तार के कारण भी लाे वाेल्टेज की समस्या है। लाेगाें के घराें तक बिजली पहुंचने में लाइन लाॅस भी हाेता है। ग्रामीण इलाकाें में ताे जर्जर तार के बदले कई जगहाें पर केबल लगाए जा चुके हैं, लेकिन शहरी इलाकाें में यह काम कुछ जगहाें पर ही हाे पाया है। जहां केबल लगाए भी गए हैं उनमें से अधिकतर जगहाें पर उसका कनेक्शन घराें में नहीं हुअा है। यदि ये कनेक्शन हाे जाए ताे लाे वाेल्टेज की समस्या कम हाे जाएगाी। अभी हल्की बारिश व हवा चलने पर तार टूट जाते हैं। इससे फाल्ट भी हाे रहा है।

इस समय हसनगंज, सिकंदरपुर, लालकोठी, चमेलीचक, जबारीपुर, मोअज्जमचक, तिलकामांझी आनंदगढ़ कॉलोनी, आदमपुर, नयाबाजार, नाथनगर, चंपानगर, सराय, कंपनीबाग, साहेबगंज, हुसैनाबाद मोमिनटोला, शिवपुरी कॉलोनी, कैलाशपुरी कॉलोनी, बासुकीनाथ कॉलोनी, बरारी, शाहजंगी, जीरोमाइल, लोदीपुर, कजरैली, सिमरिया, हबीबपुर सहित ऐसे कई एेसे इलाके हैं जहां वोल्टेज से लाेग परेशान हैं।

हसनगंज रोड : यहां के ट्रांसफार्मर की क्षमता 200 केवीए की है। लेकिन उपभोक्ताओं की संख्या 400 से अधिक है। जानकार बताते हैं कि 100 केवीए के ट्रांसफार्मर पर 70 से 80 उपभोक्ताओं को जब बिजली सप्लाई होगी तभी बिजली ठीक मिलेगी। लेकिन यहां की स्थिति बहुत खराब है। लोग लो-वोल्टेज लोग परेशान हैं।

मोअज्जमचक : यहां 100 केवीए का ट्रांसफार्मर लगा हुआ है। लो-वोल्टेज से लोग परेशान रहते हैं। शाम ढलते ही यहां लोगों की परेशानी बढ़ जाती है। पंखे तक ठीक से नहीं चल पाते हैं। माेटर नहीं चलता है।

खबरें और भी हैं...