बिजली संकट:तेज हवा और बारिश में जगह जगह फॉल्ट, दर्जनभर मोहल्लों में दो से चार घंटे तक बत्ती गुल

भागलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिकायत के 4 घंटे के बाद भी नीलकंठनगर में नहीं दूर हुई खराबी

तेज हवा और बारिश से हुए फॉल्ट से शहर के दर्जनभर से ज्यादा इलाकों में सोमवार को बिजली संकट रहा। कहीं तार गिरे तो कहीं इंसुलेटर पंचर हो गया। ज्यादातर इलाके में लो-वोल्टेज की शिकायत रही। सुबह से शाम तक कई जगह ट्रांसफार्मर का फ्यूज भी उड़ता रहा। दो से चार घंटे तक बिजली की कटौती हुई। हालांकि बिजली संकट रविवार रात से ही शुरू हो गया था।

सोमवार को सबौर ग्रिड से शहर को फुल लोड 80 मेगावाट मिलने के बाद भी संकट रहा। हवाई अड्‌डा, नीलकंठनगर के पीर बाबा स्थान के पास सुबह 9 बजे पीआरसी खराब होने से 4 घंटे से अधिक समय तक बिजली बाधित रही। उपभोक्ताओं की शिकायत के बाद भी दोपहर 1 बजे बिजली कंपनी ने खराबी दूर नहीं की।

यहां लो-वोल्टेज से परेशानी
कटहलबाड़ी खंजरपुर, राधारानी सिन्हा रोड, मशाकचक, पुलिस लाइन सहित अन्य इलाकों में लो-वोल्टेज से लोग परेशान रहे। कटहलबाड़ी खंजरपुर में सुबह 10 बजे फॉल्ट से ट्रांसफार्मर से एसटी फेज उड़ गया। इससे इलाके में लो-वोल्टेज की समस्या हो गई। एक घंटा के बाद फेज बना तो दोपहर 12.30 बजे फेज उड़ गया। हबीबपुर में इंसुलेटर पंचर होने से तो सजौर में तार गिरने से दो घंटे बत्ती गुल रही।

तिलकामांझी और पटलबाबू फीडर बंद
बारिश में तिलकामांझी, जेल, पटल बाबू, जीरोमाइल, मिरजान, विक्रमशिला, भीखनपुर, बरहपुरा, घंटाघर, नयाबाजार, खलीफाबाग फीडर भी फॉल्ट के कारण शटडाउन पर रहा। जेल व तिलकामांझी फीडर शाम 4.23 बजे से 4.42 तक, फिर 5.05 बजे से 5.35 बजे तक बंद रहा। बार-बार खराबी होने से पटल बाबू फीडर को कई बार शटडाउन पर रखा गया।

खबरें और भी हैं...