दुस्साहस:पहले 25 मांगा, फिर 70 लाख, बदमाश ने पिस्तौल का फोटो भेज स्वर्ण व्यवसायी काे दी जान मारने की धमकी

भागलपुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
स्वर्ण व्यवसायी काे धमकी के साथ भेजा गया पिस्तौल का फाेटाे। - Dainik Bhaskar
स्वर्ण व्यवसायी काे धमकी के साथ भेजा गया पिस्तौल का फाेटाे।
  • रंगदारी मांगने वाले ने पुलिस को भी दी खुली चुनौती, कहा-मेरे नंबर को ट्रेस कर दिखाए

स्वर्ण व्यवसायी विष्णु वर्मा को 6 जनवरी की दोपहर सवा तीन बजे उनके मोबाइल पर व्हाट्सएप मैसेज आया। मैसेज मोबाइल नंबर-7827182949 से आया था, जिसमें 25 लाख रंगदारी की मांग और जान मारने की धमकी दी गई है। मैसेज मिलने के बाद उन्होंने मामले की जानकारी अपने पिता और डिप्टी मेयर भाई राजेश वर्मा काे दी। फिर कोतवाली पहुंच कर प्राथमिकी दर्ज कराई गई। पुलिस ने उक्त मोबाइल का डिटेल्स निकाला है। बताया जा रहा कि वह पटना के किसी व्यक्ति का है। केस दर्ज कराने के बाद शुक्रवार सुबह में भी विष्णु को बदमाश का मैसेज आया और रंगदारी की रकम 25 से बढ़ाकर 70 कर दी। बदमाश ने मैसेज में पुलिस को खुली चुनौती दी कि उसके नंबर को ट्रेस कर दिखाए।

केस दर्ज होने के बाद भी बदमाश का आ रहा है मैसेज
बदमाश ने विष्णु वर्मा को उनके व्हाट्सएप पर पिस्तौल की फोटो भी भेजी है और मैसेज में लिखा है कि गोली खाने को तैयार रहो। पुलिस मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकती है। इस मैसेज के बाद पूरा परिवार काफी डरा-सहमा हुआ है। केस दर्ज करने के बाद भी बदमाश का मैसेज आ रहा है।

बदमाश ने ये किया है मैसेज
6 जनवरी : 25 लाख कल पहुंचा दे। नहीं तो तेरे बेटे को मार दूंगा...और ज्यादा होशियारी मत दिखाना...नहीं तो सारी होशियार निकाल दूंगा...एक ही गोली में...गोली जब घुसेगा तो बोलने के लिए तु नहीं बचेगा। जल्दी बता रुपए पहुंचाएगा या नहीं...
7 जनवरी : रुपए रेडी है या नहीं... तु मरेगा इस बार...पुलिस मेरे मोबाइल को ट्रेस करे...अब 70 लाख चाहिए, जिस सोने का हिसाब तेरे रजिस्टर में नहीं है...उसी सोने से 70 लाख पहुंचा दे...बोल रुपए देगा या नहीं...पुलिस को बोल अपराधी को पकड़े...नहीं तो इस बार तेरी होशियारी निकलता हूं....

इतने महत्वपूर्ण केस की जांच ट्रेनी दारोगा के जिम्मे
विष्णु वर्मा से रंगदारी मांगने के मामले में कोतवाली इंस्पेक्टर रामप्रीत कुमार ने ट्रेनी दारोगा राहुल कुमार को केस का जांच अधिकारी बनाया है। इतने महत्वपूर्ण केस की जांच ट्रेनी दारोगा को दिया जाना, विभाग में चर्चा का विषय बना हुआ है।

पिता से भी मांगी थी 50 लाख रंगदारी पुरैनी के प्रेमी-प्रेमिका हुए थे गिरफ्तार
जुलाई 2020 में विष्णु वर्मा के पिता हरिओम वर्मा से अपराधियों ने 50 लाख रंगदारी मांगी थी। बदमाशों ने मोबाइल पर टेक्स्ट मैसेज भेजा था। मामले में जोगसर पुलिस ने जगदीशपुर प्रखंड के पुरैनी, ख्वाजानगर नगर निवासी अब्दुल कादिर और उसकी प्रेमिका बीबी शफीका को गिरफ्तार किया था। अब्दुल और शफीका एक-दूसरे से प्यार करते थे और भागकर शादी रचाने वाले थे। उन्हें पैसों की जरूरत थी, इस कारण दोनों ने मिलकर रंगदारी और धमकी वाला एसएमएस भेजा था। पुलिस ने युवती के पास से वह मोबाइल और सिम भी बरामद किया था।

भाई राजेश ‌वर्मा को भी मिल चुकी है जान से मारने की धमकी
डिप्टी मेयर राजेश वर्मा को भी जान मारने की धमकी मिल चुकी है। नवंबर 2017 में रोहतास के दूध विक्रेता के मोबाइल से राजेश वर्मा की पत्नी पूजा वर्मा के मोबाइल पर कॉल कर धमकी दी गई थी। इस मामले में जोगसर थाने में केस भी कराया गया था। अपराधी ने फोन कर डिप्टी मेयर का नाम लेकर धमकी दी थी। जिस नंबर से फोन आया था, वह सिम चुन्नी यादव के नाम से जारी हुआ था, जो रोहतास का दूध विक्रेता निकला था। पुलिस उसे गिरफ्तार कर भागलपुर भी लाई थी।

खबरें और भी हैं...