जांच रिपोर्ट का इंतजार:नाथनगर में रेल ट्रैक पर मिले बम की एफएसएल रिपोर्ट अब तक है पेंडिंग, जांच हो रही बाधित

भागलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

नाथनगर स्टेशन पर 17 फरवरी की रात रेलवे ट्रैक पर मिले बम की अब तक एफएसएल रिपोर्ट जीआरपी को नहीं मिली। इससे जांच बाधित हो रही है। एसआईटी को पता नहीं चल रहा है कि नक्सलियों द्वारा जिस डेंसिटी का बम उपयोग किया जाता है। यह उस क्षमता की है या नहीं। क्षमता से हाई होने पर पता चलेगा कि नक्सली वारदात है या नहीं। इसके बाद जांच की दिशा तय होगी।

एसआईटी का ध्यान मुंगेर के हवेली खड़गपुर, पाटम, जमालपुर, कजरा, धरहरा के अलावा भागलपुर के शाहकुंड, पीरपैंती के पहाड़ी इलाके और जमुई के पहाड़ी इलाकों से जुड़े गांवों की ओर है। दरअसल, बम में लगा डेटोनेटर से जीआरपी को शक है कि पत्थर उड़ाने में इसका उपयोग होता है, इसलिए किसी मजदूर किस्म के लोगों ने डेटोनेटर वहां से लाकर बम में फिट किया।

फोटो और नंबर से भी अब तक नहीं मिला सुराग
स्पाॅट पर पर्स में मिले फोटो व मोबाइल नं. से सुराग नहीं मिला। तीनों मोबाइल 7061834269, 8409446503 व 9572443133 बंद आ रहा है। एक अधिकारी ने बताया, एफएसएल रिपोर्ट के बाद असलियत सामने आएगी। महकमा ने लैब निदेशक को जल्द रिपोर्ट देने का अनुरोध किया है।

खबरें और भी हैं...