पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • In Preparation For Running Ranchi Bhagalpur Express To Godda, The Board Did Not Give Permission Even After The Trust Of The Railway Minister

विडंबना:रांची-भागलपुर एक्सप्रेस को गोड्डा तक दौड़ाने की तैयारी में पेच, रेल मंत्री के भरोसे के बाद भी बोर्ड ने नहीं दी अनुमति

भागलपुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • रांची डिवीजन ने रेलवे बोर्ड को दिए अपने 69 प्रस्तावों में इस योजना को भी किया था शामिल
  • सप्ताह में तीन दिन चलती थी यह ट्रेन, इसे रोज चलाने की थी योजना, भागलपुर होकर सहरसा तक चलाने से बढ़ती रेलवे की आय

रांची-भागलपुर एक्सप्रेस के गोड्‌डा तक विस्तार को अब तक गाइडलाइन रेलवे बोर्ड ने पूर्व रेलवे को नहीं दी है। पिछले साल अगस्त में रांची मंडल ने 69 ट्रेनों को चलाने के लिए रेलवे बोर्ड को प्रस्ताव दिया था। रांची-भागलपुर एक्सप्रेस को दोबारा चलाने का प्रस्ताव भी इसी सूची में शामिल था।

रांची-भागलपुर एक्सप्रेस का गोड्‌डा तक विस्तार करने के लिए पिछले दिनों क्षेत्रीय सांसद ने नए रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की थी। रेल मंत्री ने जल्द चलाने का भरोसा भी दिया, लेकिन बोर्ड विस्तार देने के पक्ष में नहीं है।

अफसराें ने कर ली थी पूरी तैयारी अचानक सहरसा तक विस्तार रुका

बोर्ड के अफसरों ने रेल मंत्री को ब्रीफिंग में बताया कि रांची-भागलपुर एक्सप्रेस पहले सप्ताह में तीन दिन ही चलती थी। लेकिन अब इसे रोजाना चलाने का प्रस्ताव है। इसका विस्तार पहले की तैयारियों के अनुसार, सहरसा तक था। किऊल के रास्ते रांची से भागलपुर आने में डेढ़ घंटे की बचत होती है। चूंकि दिनभर यह रैक भागलपुर में खड़ी रहती है, इसलिए इसे डीजल इंजन से मुंगेर ब्रिज के रास्ते सहरसा तक चलाने की योजना थी। इसका टाइम टेबल भी बना, लेकिन कोरोनाकाल में अचानक इसका विस्तार रोक दिया था।

आमदनी के गणित ने रोकी सहरसा तक की राह

अफसरों ने रेल मंत्री को गोड्‌डा तक विस्तार से संभावित और वर्तमान रेवेन्यू का भी हवाला दिया। बोर्ड के अफसरों ने कहा कि अभी गोड्‌डा से दिल्ली के लिए हमसफर चल रही है। इसके अलावा पैसेंजर ट्रेनें चल रही हैं। हमसफर में गोड्‌डा से रेवेन्यू शुरुआती समय में बेहतर मिला था। बाद में भागलपुर, नवादा, सासाराम आदि से ही बड़ा रेवेन्यू आने लगा। अफसरों ने सहरसा से संभावित आय को गोड्‌डा से बेहतर बताया था। ऐसे में गोड्‌डा व सहरसा विस्तार के बीच मामला फंस गया है। इसका खामियाजा भागलपुर के यात्रियों को उठाना पड़ रहा है। अब एक साल होने को है। गोड्डा तक चलना तो दूर रांची से भागलपुर तक चलाने की ही अनुमति अब तक नहीं मिली है।

बोर्ड से नहीं मिली गाइडलाइन

रांची-भागलपुर एक्सप्रेस के गोड्डा एक्सप्रेस को लेकर अब तक रेलवे बोर्ड से कोई गाइडलाइन नहीं मिला है। फिलहाल इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी।
- एकलव्य चक्रवर्ती, सीपीआरओ, पूर्व रेलवे।

खबरें और भी हैं...