पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ठगी का मामला:ऑक्सीजन सिलेंडर के नाम पर ठगी के डेढ़ करोड़ 5 खातों में भेजे, पटना के एटीएम से निकाले पैसे

भागलपुर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गिरफ्तार सरिता देवी को कोर्ट में पेशी को ले जाती दिल्ली पुलिस। - Dainik Bhaskar
गिरफ्तार सरिता देवी को कोर्ट में पेशी को ले जाती दिल्ली पुलिस।
  • ठगी में गिरफ्तार भागलपुर की ईंट-भट्‌ठा मजदूर महिला को दिल्ली ले गई पुलिस, कर्नाटक से जुडे़ तार

कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन सिलेंडर दिलाने के नाम पर हुई ठगी मामले में गिरफ्तार घोघा की ईंट-भट्ठा मजदूर सरिता और उसके परिजनाें के पांच खाताें से डेढ़ कराेड़ रुपए से अधिक के ट्रांजेक्शन के सबूत पुलिस को मिले हैं। दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने घोघा के पक्की सराय की सरिता देवी को रविवार सुबह कोर्ट में प्रस्तुत किया, जहां से उसे 72 घंटे की ट्रांजिट रिमांड पर पुलिस को सौंप दिया गया जिसके बाद पुलिस उसे अपने साथ दिल्ली ले गई। अब सरिता को दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाएगा।

दिल्ली पुलिस साइबर सेल के एसआई करणवीर ने बताया कि दिल्ली में कई मरीज और उनके परिजनों से ऑक्सीजन सिलेंडर दिलाने के नाम पर ठगी हुई थी। पैसे लेने के बाद भी मरीजों को ऑक्सीजन नहीं मिला था जिसके बाद कई मरीजों की मौत हो गई थी। जांच में पता चला कि ठगी का पैसा कर्नाटक मेें एसबीआई के कई खातों में ट्रांसफर हुआ था। उन खातों का डिटेल निकाला तो पता चला कि कर्नाटक से पैसे सरिता देवी के खाते में ट्रांसफर हुए हैं। ठगी के ज्यादातर पैसे पटना के अलग-अलग एटीएम से निकाले गए हैं।

बेगूसराय का अमित राेशन है मास्टमाइंड
ठगी के खेल में बेगूसराय का अिमत रोशन मास्टरमाइंड है। उसी ने सभी मजदूरों को झांसा देकर अलग-अलग बैंकों में खाता खुलवाया था। सरिता के खाते में 3 माह के दौरान करीब 90 लाख का ट्रांजेक्शन हुआ है। जबकि सरिता की बहन पिंकी के खाते में 44 लाख और 3 अन्य परिजनों के खाते में भी पैसों का लेनदेन हुआ है। अब तक जांच में सरिता समेत 5 परिजनों के खाते में डेढ़ करोड़ से अधिक के ट्रांजेक्शन के सबूत मिले हैं।

खबरें और भी हैं...