पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

टीएमबीयू:इंटरनल सोर्स से आय घटी इसलिए अब आउटसाेर्सिंग ही है विकल्प, गाड़ियों पर फिजूलखर्ची पर कंट्रोल नहीं

भागलपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

टीएमबीयू के 125 कांट्रैक्ट कर्मियाें का सेवा विस्तार 11 माह की जगह 6 माह ही करने के पीछे हाल ही में इसके लिए बनी कमेटी ने विश्वविद्यालय की आय घटने का कारण बताया था। भविष्य में आउटसाेर्सिंग का विकल्प तैयार करने की बात भी कही गई, लेकिन हकीकत इससे इतर है। आउटसाेर्सिंग के लिए राज्य सरकार ने टीएमबीयू काे अलग से 10 कराेड़ दिए थे, इससे कांट्रैक्ट कर्मियाें काे भुगतान नहीं हाेता है।

दूसरी तरफ मुंगेर विवि के अलग हाेने से 30 से अधिक काॅलेजाें का घाटा टीएमबीयू काे हुआ है। आय के बाकी साधन पहले जितने ही हैं। जानकार बताते हैं, विवि की अाय का बड़ा हिस्सा वीसी-प्राेवीसी के लिए महंगी गाड़ियाें की खरीद पर खर्च हाेता रहा है।

पूर्व वीसी प्रेमा झा, प्रभारी वीसी बिमल कुमार, पूर्व वीसी आरएस दुबे के समय खरीदी गई विवादित स्काॅर्पियाे से लेकर पूर्व वीसी एनके झा तक के समय गाड़ियाें की खरीद हुई थी। बाकी खर्च डीजल, जरूरत पड़ी ताे जेनरेटर, कर्मचारियाें के यूनिफॉर्म, जूते, छाते, बिजली बिल, चाय-नाश्ते, रंगाई-पुताई, हाॅस्टलाें की मरम्मत, परीक्षा पर हाेता है।

सबसे ज्यादा आय संपत्ति से

इसके उलट स्नातक में ऑनलाइन दाखिले से पिछली बार तक टीएमबीयू काे मिले एक कराेड़, वाेकेशनल काेर्स के स्काेव फंड के करीब सवा कराेड़ विश्वविद्यालय के पास ही है। इसमें काॅलेजाें का भी हिस्सा है। सबसे ज्यादा आय एस्टेट से हाेती है। भैरवा तालाब सहित अन्य तालाब, बगीचे की बाेली, खेती इसके साधन हैं। अंतिम बार दाे साल पहले भैरवा तालाब की बाेली 52 लाख रुपए की लगी थी। एनएसएस, एनसीसी, परीक्षा शुल्क, पुरानी काॅपियाें की बिक्री से भी आय हाेती है।

40 हजार की चीनी ही खा ली

गाड़ियाें की खरीद के साथ अधिकारियाें के क्वार्टर के डेकाेरेशन पर 15-15 लाख रुपए तक इंटर्नल साेर्स से ही खर्च हाेते रहे हैं। कुछ छात्र नेताओं ने इन खर्चाें पर आरटीआई किया ताे खुलासा हुआ था। एक पूर्व वीसी के समय उनके आवास पर एक महीने की चीनी का खर्च 40 हजार रुपए आया था।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- समय की गति आपके पक्ष में रहेगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा। पिछले कुछ समय से चल रही किसी समस्या का समाधान मिलने से राहत मिलेगी। कोई बड़ा निवेश करने के लिए समय उत्तम है। नेगेटिव- परंतु दोपहर बाद परिस...

और पढ़ें