समस्या:भागलपुर होकर राजधानी के चलने में जमालपुर का टनल बड़ी बाधा

भागलपुरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रपोजल बनकर तैयार, बाेर्ड की मंजूरी के बाद टाइम-टेबल हाेगा जारी : डीआरएम
  • राजधानी के लिए ही विद्युतीकरण व दोहरीकरण तेजी से पूरा किया गया

भागलपुर होकर राजधानी एक्सप्रेस की सबसे बड़ी बाधा जमालपुर स्थित सेकंड टनल के निर्माण में हो रही देरी है। यह टनल मार्च-अप्रैल तक पूरा हो जाएगा। इसके बाद राजधानी एक्सप्रेस चलाए जाने की कवायद तेज की जाएगी। राजधानी एक्सप्रेस चलाने के लिए पिछले दो साल में साहिबगंज-जमालपुर रेलखंड का विद्युतीकरण और ट्रैक के दोहरीकरण का काम पूरा किया गया। अब काेई बाधा नहीं है।

ये बातें डीआरएम यतेंद्र कुमार ने कही। डीआरएम ने कहा, भागलपुर-जमालपुर-किऊल रेलखंड की पटरी को राजधानी एक्सप्रेस के लायक बनाने की तैयारी पूरी हो गई है। चंद महीने में कटिहार से बरौनी रेलखंड की जगह राजधानी मुंगेर-किऊल होकर गुजरेगी। मुंगेर ब्रिज के रास्ते मुंगेर स्टेशन, जमालपुर और किऊल रेलखंड होकर राजधानी एक्सप्रेस चलेगी। इसका टाइम टेबल व अन्य नोटिफिकेशन रेलवे प्रशासन द्वारा जल्द ही सार्वजनिक किया जाएगा।

डीआरएम ने संकेत दिया कि धनबाद के रास्ते सियालदह से नई दिल्ली जाने वाली राजधानी या कटिहार-बरौनी रेलखंड के रास्ते गुवाहाटी-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में किसी एक का परिचालन भागलपुर रूट होकर संभव है। क्षेत्रीय सांसदों ने भी किसी एक राजधानी एक्सप्रेस के चलने का दबाव रेल मंत्रालय पर दिया है। इसलिए इंफ्रास्ट्रक्चर दुरुस्त होने के बाद भागलपुर होकर एक राजधानी सप्ताह में दो दिन चलाई जा सकती है। वैसे, ट्रेनों के परिचालन को लेकर रेलवे बोर्ड काे ही निर्णय लने का अधिकार है।

खबरें और भी हैं...