पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अधिसूचना जारी:10 दिन बाद खुली जयनगर एक्सप्रेस, कल से कविगुरु भी मिलेगी

भागलपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • मुक्तापुर-समस्तीपुर स्टेशन के बीच पानी के कारण बंद थी जयनगर एक्सप्रेस

दरभंगा-समस्तीपुर रेल खंड पर मुक्तापुर-समस्तीपुर स्टेशन के मध्य पुल संख्या एक ( डाउन लाइन) पर पानी का स्तर बढ़ने से पिछले 10 दिनों से कैंसिल जयनगर एक्सप्रेस का परिचालन मंगलवार को शुरू हुआ। सुबह 7:50 बजे भागलपुर से खुली जयनगर एक्सप्रेस में लंबी दूरी के काफी कम यात्रियों ने सफर किया। अधिकारियों ने बताया 10 जुलाई से रद्द जयनगर एक्सप्रेस के फिर से शुरू होने की जानकारी के अभाव में कम पैसेंजर चढ़े। बुधवार से पैसेंजर की भीड़ इस ट्रेन में भी शुरू हो जाएगी। अंग क्षेत्र को मिथिला क्षेत्र से जोड़ने के लिए यह एकमात्र ट्रेन है। इसके चलाने का मकसद अंग क्षेत्र के लोगोें को नेपाल बॉर्डर तक रेलमार्ग से पहुंचाना भी है।

आज हावड़ा से भागलपुर के लिए चलेगी कविगुरु एक्सप्रेस
दुमका के रास्ते हावड़ा से भागलपुर के लिए दैनिक कवि गुरु एक्सप्रेस खुलेगी। यह हावड़ा से बुधवार सुबह 10.40 बजे खुलेगी और बर्धमान, दुमका के रास्ते भागलपुर रात 12 बजे पहुंचेगी। जबकि गुरुवार सुबह 6 बजे यह भागलपुर से खुलेगी और शाम 5.30 बजे हावड़ा पहुंचेगी। पूर्व रेलवे के सीपीआरओ एकलव्य चक्रवर्ती ने बताया कि इसमें सामान्य एक्सप्रेस किराया लागू होगा। तत्काल कोटा उपलब्ध होगा।

27 जुलाई काे बदले रूट से जम्मूतवी से भागलपुर आएगी अमरनाथ एक्सप्रेस

शाहजहां यार्ड के आधुनिकीकरण कार्य के चलते जम्मूतवी से भागलपुर आने वाली अमरनाथ एक्सप्रेस बदले रूट पर चलेगी। अधिकारियों ने बताया कि जम्मूतवी से 27 जुलाई को खुलने वाली अमरनाथ एक्सप्रेस सहारनपुर-गाजियाबाद-कानपुर सेंट्रल-लखनऊ स्टेशन होते हुए भागलपुर पहुंचेगी। उत्तर रेलवे के मुरादाबाद-शाहजहांपुर सेक्शन के शाहजहांपुर यार्ड में 22 जुलाई से 28 तारीख तक आधुनिकीकरण कार्य के लिए प्री-नान इंटरलाकिंग एवं नान इंटरलाकिंग कार्य होना है। इसके कारण जम्मूतवी-भागलपुर अमरनाथ एक्सप्रेस के डाउन रूट को डायवर्ट करने का निर्णय लिया गया है। पूर्व रेलवे ने मंगलवार को अधिसूचना जारी किया है।

अंग एक्सप्रेस में आज से स्लीपर की एक बोगी बढ़ेगी
भागलपुर से यशवंतपुर जाने वाली अंग एक्सप्रेस में बुधवार से स्लीपर की एक एक्स्ट्रा बोगी लगाई जाएगी। पहले छह स्लीपर की बोगी थी। जो बढ़कर सात हो जाएगी। 22 कोच की इस एलएचबी ट्रेन में स्लीपर बोगी लगने से यात्रियाें को 80 कंफर्म सीट की सुविधा मिलने लगेगी। लॉकडाउन खुलने के बाद बेंगलुरू में कल-करखाने खुलने लगे हैं। ऐसे में इस ट्रेन की भारी मांग भागलपुर से रहती है। यात्रियों की बढ़ी भीड़ को देखते हुए ही पूर्व रेलवे ने एक्स्ट्रा स्लीपर कोच लगाने का फैसला किया है।

खबरें और भी हैं...