लगाया आरोप / क्वारेंटाइन सेंटरों में आवंटित राशि का एक चौथाई भी ईमानदारी से नहीं हाे रहा खर्च : प्रवीण कुशवाहा

Not a quarter of the amount allocated in quarantine centers is spent honestly: Praveen Kushwaha
X
Not a quarter of the amount allocated in quarantine centers is spent honestly: Praveen Kushwaha

  • कहा, बिहार महामारी से बेहाल, सूमो ऑनलाइन चुनाव कराने की तैयारी में
  • कहा, केंद्र सरकार लॉकडाउन के 50 दिन बाद भी नहीं चेती

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 07:21 AM IST

भागलपुर. बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष और एआईसीसी मेंबर प्रवीण कुशवाहा ने शुक्रवार को कहा कि बिहार में क्वारेंटाइन सेंटरों में आवंटित राशि का एक चौथाई हिस्सा भी ईमानदारी से खर्च नहीं हो रहा है। भोजन से लेकर अन्य सुविधाओं का घोर अभाव है। केंद्र सरकार लॉकडाउन के 50 दिन बाद भी नहीं चेती है।

कोरोना महामारी से निपटने में केंद्र सरकार पूरी तरह फेल साबित हुई है। केंद्र जवाब दे कि ट्रेन चलने के बावजूद लोग पैदल घर क्यों लौट रहे हैं? पैदल लौटने के चक्कर में ही वे हादसे का शिकार हो रहे हैं। कुशवाहा शुक्रवार काे पत्रकारों से ऑनलाइन बात कर रहे थे। इस उन्हाेंने केंद्र और राज्य सरकार दाेनाें काे कटघरे में खड़ा किया। कहा कि अभी पूरा देश खासकर बिहार महामारी की चपेट में है और बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ऑनलाइन चुनाव की तैयारी में जुटे हुए हैं।

आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करना अनिवार्य बताकर एनडीए सरकार आने वाले दिनों में होने वाले चुनाव में जनता को प्रभावित कर सकती है। चुनाव आयोग महामारी को देखते हुए चुनाव संबंधी कोई निर्णय न ले, हमारी मांग है। स्वास्थ्य सचिव काे कर्तव्य हीनता के लिए हटाया गया ताे विभाग के मंत्री काे इस्तीफा देना चाहिए  उन्हाेंने दो दिन पहले स्वास्थ्य सचिव संजय कुमार को हटाए जाने के मुद्दे पर सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे काे कटघरे में खड़ा किया।

कहा कि जिस अधिकारी को कर्तव्य हीनता के लिए हटाया गया, तो उस विभाग के मंत्री हाेने के नाते तुरंत इस्तीफा देना चाहिए। नए स्वास्थ्य सचिव पर सवाल करते हुए कहा कि यदि उनका ट्विटर हैंडल चेक किए जाएं, तो कई ऐसे तथ्य मिलेंगे जो सांप्रदायिक विचारधारा से जुड़े है।

ऐसे में सांप्रदायिक विचारधारा के उदय सिंह कुमावत को प्रमुख पद पर बैठाने का उचित क्या है? उन्होंने कहा कि टेस्टिंग के नाम पर पूरे देश में बिहार पिछड़ा है। सरकार को अभी इस पर ध्यान देना चाहिए न कि उन्हें राजनीति करनी चाहिए।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना