पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • Officers Claim Exceeding The Target Corona Investigation, Reality Are Returning From The Sadar; Thermal Scanning Nowhere

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शहर व गांवों में 9-9 नए मरीज:अफसरों का दावा- लक्ष्य से ज्यादा हो रही कोरोना जांच, हकीकत- सदर से लौटा रहे हैं; थर्मल स्कैनिंग कहीं नहीं

भागलपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • पिछले साल से ज्यादा घातक है वायरस का नया स्ट्रेन, फिर भी सरकारी तैयारी पुख्ता नहीं
  • स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि जिले में रोज 5 हजार लोगों की कोरोना जांच हो रही

कोरोना के सेकंड वेव में संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही है। इसे कम करने के सरकारी दावे हो रहे हैं। अस्पतालों में जांच हो रही है, लेकिन इसकी रफ्तार धीमी है। विशेषज्ञों की माने तो वायरस का नया स्ट्रेन पिछले साल की तुलना में ज्यादा घातक है। ऐसे में पिछली बार बीमारी के लिए लोगों के साथ प्रशासनिक स्तर पर भी डर बड़ा था। दोबारा संकट बड़ा है, लेकिन लोगों के साथ प्रशासनिक संजीदगी नहीं दिख रही है। नतीजा, लगातार मरीज बढ़ रहे हैं। इस साल में दो मौतें भी हो चुकी हैं। लेकिन स्वास्थ्य विभाग जांच की संख्या नहीं बढ़ा पा रहा।

हालांकि सिविल सर्जन डॉ. उमेश शर्मा का दावा है कि लक्ष्य से ज्यादा जांच हो रही है। लक्ष्य 1600 आरटीपीसीआर की है, लेकिन सोमवार को 1900 से ज्यादा सैंपलिंग हुई। लेकिन 2020 की व्यवस्थाएं और रिपोर्ट सीएस के दावे को झुठला रही है। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि जिले में रोज 5 हजार लोगों की कोरोना जांच हो रही है। शहर के तीन अस्पताल समेत तीन स्थानों पर मोबाइल टीम जांच कर रही है। लेकिन विभागीय इस दावे से इतर अस्पतालों में लक्ष्य तक पूरे नहीं हो पा रहे हैं। सदर अस्पताल में तो हालात बेहद ही बुरे हैं। यहां लक्ष्य पूरा करते ही जांच बंद कर दिए जा रहे हैं। इससे रोज दो दर्जन से ज्यादा लोग बिना जांच कराए ही लौटने को विवश हैं। सोमवार दोपहर भी सदर अस्पताल से दोपहर दो बजे के बाद आने वाले दो दर्जन लोगों को लौटा दिया गया।

सदर अस्पताल में लापरवाही से बढ़ सकती है संक्रमण की चेन

जानकारों की माने तो सर्दी-खांसी, बुखार के लक्षण वाले लोग सदर अस्पताल पहुंच रहे हैं। इनमें कुछ ऐसे भी हैं, जो कहीं-न-कहीं संक्रमितों के संपर्क में आए। इसके बावजूद उनकी जांच नहीं हो रही। उन्हें अगले दिन आने को कहा जा रहा है। शाहजंगी की नेहा को ओपीडी में डॉक्टर ने कोरोना जांच कराने को कहा। लेकिन जांच केंद्र पर किट खत्म होने की बात मंगलवार को आने को कहा। बरारी के बाॅबी कुमार, इशाकचक से गुड्डू कुमार, खंजरपुर से मनाेज कुमार समेत अन्य को भी लाैटाया। लोगों ने इसका विरोध भी किया। इससे संक्रमण की चेन बनने की आशंका बढ़ गई है।

735 ने नहीं पहना मास्क, वसूला 36,750 जुर्माना

बढ़ते संक्रमण पर मास्क की अनिवार्यता काे लेकर साेमवार काे भी मास्क चेकिंग अभियान चलाया। सदर अनुमंडल क्षेत्र में 28 जगहाें में अभियान चला। इसमें 735 लाेग बिना मास्क मिले। उनसे 36750 रुपए का जुर्माना वसूला। सदर एसडीओ ने इसकी रिपाेर्ट डीएम काे दी है। हालांकि 5 मजिस्ट्रेट ने रिपाेर्ट नहीं दी है। सबसे अधिक जिला उद्याेग केंद्र के जीएम रामशरण राम ने 101 लाेगाें काे बिना मास्क पकड़ा। गाेराडीह बीडीओ ने 8 को पकड़ा। नवगछिया सीओ व पुलिस ने मास्क न लगाने वाले 49 लोगों से 2450 रुपए जुर्माना वसूला।

जिले में मिले 22 संक्रमित, 35 ठीक भी हुए

सोमवार को जिले में 22 नए संक्रमित मिले। इनमें शहर व गांवों में 9-9 मरीज हैं, जबकि 4 खगड़िया, मुजफ्फरपुर, अमरपुर बांका के हैं। उनकी जांच भागलपुर में ही हुई। इनमें भीखनपुर की असिस्टेंट बैंक मैनेजर व एक युवक है। तिलकामांझी में 1 युवक, 1 वृद्ध, खंजरपुर में अधेड़, दीपनगर में वृद्ध, आदमपुर में वृद्धा, इशाकचक शिवपुरी कॉलोनी की महिला व आरपी सिंह रोड का 1 युवक संक्रमित मिला है। अब जिले में 9922 संक्रमित हो गए, हालांकि राहत यह है कि 35 ठीक भी हुए।

पहले से डर कम हो गया

इस बार लोगों में अपेक्षाकृत डर कम है। 10 दिन से मरीजों की बढ़ती संख्या के बाद मास्क लोग पहन रहे हैं। अभी यह बीमारी खत्म नहीं होने वाली है। इसलिए मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करना जरूरी है।
- डॉ. राजकमल चौधरी, मेडिसिन विभाग, मायागंज

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- ग्रह स्थिति अनुकूल है। मित्रों का साथ और सहयोग आपकी हिम्मत और हौसले को और अधिक बढ़ाएगा। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी काबू पाने में सक्षम रहेंगे। बातचीत के माध्यम से आप अपना काम भी निकलवा लेंगे। ...

    और पढ़ें