पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

वर्ल्ड एथलेटिक्स में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी मीनू:2022 में प्रतियोगिता के लिए अमेरिका जाएंगी; पिता पत्थर तोड़ने वाले मजदूर

भागलपुर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मीनू 2022 में वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी। - Dainik Bhaskar
मीनू 2022 में वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व करेंगी।
  • जेवलिन थ्रो में प्रतिभाशाली पत्थर ताेड़ने वाले मजदूर की बेटी के पास विश्व स्तर का भाला और जूते नहीं
  • अगले साल जुलाई में अमेरिका के औरिगन राज्य के यूजीन शहर में होगा प्रतियाेगिता का आयोजन

पीरपैंती के आदिवासी बहुल कीर्तनियां में नंगे पांव गांव की पथरीली मिट्‌टी पर दौड़ने-कूदने व जेवलिन थ्रो का अभ्यास करने वाली मीनू सोरेन का सपना साकार हो गया। वह 2022 में 15 से 24 जुलाई तक अमेरिका के औरिगन राज्य के यूजीन शहर में होने वाले वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व करेगी। मीनू इससे पहले दिसंबर 2017 में हरियाणा के रोहतक में हुए 63वीं नेशनल स्कूल गेम एथलेटिक्स के बालिका अंडर-19 में पहले स्थान पर रही थी। उसने यहां 44.51 मीटर भाला फेंककर बिहार का नाम रोशन किया था।

जेवलिन थ्रो का अंतरराष्ट्रीय रिकार्ड 62 मीटर को ताेड़ने का है लक्ष्य
मीनू शहर के खरमनचक स्थित राजकीय बालिका इंटर विद्यालय में संचालित बिहार की एकमात्र बालिका एकलव्य आवासीय खेल प्रशिक्षण केंद्र में पिछले आठ साल से प्रशिक्षण ले रही है। प्रशिक्षक राजीव लोचन से मिले तकनीकी गुर और कड़ी मेहनत की वजह से मीनू ने शुरुआती दौर में 37 मीटर से बढ़ाकर 47 मीटर तक जेवलीन थ्रो करने की क्षमता विकसित कर ली है। उसका लक्ष्य अब अंतरराष्ट्रीय रिकार्ड 62 मीटर को तोड़ने का है।

पिछले साल पिता के निधन के बाद परिवार आर्थिक संकट में
आर्थिक रूप से कमजोर मीनू सोरेन के परिवार के पास इतने पैसे नहीं है, जिससे अपने जरूरत के मुताबिक संसाधन जुटा सके। मीनू के पिता मान सिंह सोरेन पत्थर तोड़ कर अपनी जीविका चलाते थे। 2020 के फरवरी में उनके निधन होने के बाद परिवार आर्थिक तंगी की चपेट में आ गया।

मां हीरामणी हांसदा पुस्तैनी दो बीघा जमीन में खेती कर दो बेटे और मीनू का भरण पोषण कर रही है। मीनू ने बताया, खेल विभाग ने सस्ता और एल्यूमिनियम वाला जेवलीन अभ्यास के लिए दिया है। ओलंपिक और अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में मेडल जीतने के लिए कार्बन और मेटल वाले रेंज जेवलीन की आवश्यकता है। जिसकी कीमत 65 हजार से दो लाख रुपये तक है। उसके पास अंतरराष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता के लायक जूते भी नहीं हैं।

2020 में कैपटाउन से आया था बुलावा, कोरोना के कारण कैंप हाे गया था रद्द
मीनू को पांच बार राज्य खेल पुरस्कार सम्मान मिल चुका है। कला, संस्कृति एवं युवा विभाग के राज्य खेल प्राधिकरण द्वारा आयोजित राज्य खेल पुरस्कार से मीनू को 2013 से 2018 तक पांच बार सम्मान मिला है। ये पुरस्कार जेवलीन के क्षेत्र में राष्ट्रीय स्तर पर बिहार को मेडल दिलाने के लिए दिये गए।

26 जनवरी, 2018 को तत्कालीन राज्यपाल ने राजभवन में विशिष्ट श्रेणी के खेल सम्मान से मीनू सोरेन को सम्मानित किया था। वह 2020 के लिए दक्षिण अफ्रीका के कैपटाउन में होने वाले ट्रेनिंग कैंप के लिए चयनित हुई थीं, लेकिन कोरोना की वजह से ट्रेनिंग कैंप रद्द कर दिया गया।

मीनू की ये हैं उपलब्धियां

  • 2014 में रांची में 59वीं नेशनल स्कूल गेम एथलेटिक्स बालिका अंडर 17 में दूसरा स्थान
  • अप्रैल 2014 हरिद्वार में 12वीं नेशनल इंटर जिला जूनियर एथलेटिक्स मीट में दूसरा स्थान
  • जनवरी 2015 में रांची में 60वीं नेशनल स्कूल गेम एथलेटिक्स बालिका प्रतिस्पर्धा में पहला स्थान
  • जनवरी 2016 में केरल कोजीकोड़ में 61वीं नेशनल स्कूल गेम एथलेटिक्स बालिका अंडर 17 में दूसरा स्थान
  • फरवरी 2017 में बड़ोदरा में 62वीं नेशनल स्कूल गेम एथलेटिक्स बालिका अंडर 17 में पहला स्थान
  • दिसंबर 2017 में रोहतक में 63वीं नेशनल स्कूल गेम एथलेटिक्स बालिका अंडर 19 में पहला स्थान
  • नवंबर 2018 में रांची में यूथ जूनियर नेशनल में कांस्य पदक
  • सितंबर-18 में ईस्ट जोन प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उत्तम व्यतीत होगा। खुद को समर्थ और ऊर्जावान महसूस करेंगे। अपने पारिवारिक दायित्वों का बखूबी निर्वहन करने में सक्षम रहेंगे। आप कुछ ऐसे कार्य भी करेंगे जिससे आपकी रचनात्मकता सामने आएगी। घर ...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser