ट्रैफिक का स्ट्रेंथ बढ़ा:सुविधाओं से लैस हुई पुलिस, लेकिन जाम से निजात नहीं

भागलपुर4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए ट्रैफिक का स्ट्रेंथ बढ़ाया गया है। जवानों को सुविधाओं से भी लैस किया जा रहा है। लेकिन शहरवासियों को जाम से निजात नहीं मिल रहा है। गुरुवार को स्टेशन चौक से लेकर उल्टा पुल तक जाम रहा। ट्रैफिक पुलिस की तैनाती के बाद भी चौक करीब 20 मिनट तक जाम रहा। शहर में जाम के कई कारण है।

अलग-अलग इलाकों में जाम की अलग-अलग वजह है। ट्रैफिक का स्ट्रेंथ बढ़ा कर 110 कर दिया गया है। वाहनों को गति पर अंकुश लगाने के लिए स्पीड राडार गन उपलब्ध कराया गया है। लेकिन जाम की समस्या का समाधान नहीं खोजा रहा है।

एसएसपी बाबू राम ने बताया कि यातायात व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कई उपाय किये जा रहे हैं। स्ट्रेंथ बढ़ाने के साथ सीनियर अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि सुबह-शाम खुद निकलें और शहर की ट्रैफिक व्यवस्था का जायजा लें। जहां कमी दिखे, उसमें सुधार के लिए ऑन स्पॉट संबंधित पुलिसकर्मियों को निर्देशित करें।

  • 1. टेंपो और ई-रिक्शा का रूट निर्धारित नहीं : शहर में टेंपो और ई-रिक्शा का रूट निर्धारित नहीं है। नवगछिया स्टेशन से टेंपो भागलपुर तक चलती है। अगर रिंग सर्विस शुरू हो तो सड़कों पर टेंपो का लोड कम होगा। ई-रिक्शा का भी रूट तय नहीं है। स्कूल बस के लिए भी रूट का निर्धारण हो।
  • 2. पड़ाव स्थल चिह्नित नहीं : टेंपो और ई-रिक्शा का पड़ाव स्थल निर्धारित नहीं है। इस कारण ड्राइवर जहां-तहां टेंपो और ई-रिक्शा रोक कर सवारी उतारते और बैठाते हैं। शहर में प्रतिदिन करीब दो हजार टेंपो और 6805 ई-रिक्शा चलते हैं। फिर भी इनका स्टैंड नहीं है। टेंपो के लिए पहले कभी 11 स्टैंड चिह्नित हुए थे, जो अब सिर्फ कागजों पर है। \
  • 3. चौक से 200 मीटर दूर रुके के टेम्पो : जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए टेंपो को चौक-चौराहों से सौ मीटर दूर रोकने की योजना बनी थी। चौराहों पर टेंपो रोकने से जाम लगता है। निगम और परिवहन विभाग ने मिलकर घूरनपीर बाबा चौक, तिलकामांझी चौक और कचहरी चौक पर टेंपो पड़ाव का बोर्ड भी लगवाया था। रस्सी से बैरिकेडिंग भी की गई थी। लेकिन यह व्यवस्था ज्यादा दिन तक नहीं चली।
  • 4. सड़कों का अतिक्रमण : मुख्य बाजार समेत शहर की हर सड़कों पर अतिक्रमण है। खलीफाबाग चौक के आसपास सड़क के दोनों किनारे गाड़ियों की पार्किंग होती है। स्टेशन चौक पर बेतरतीब तरीके से टेंपो वाले जहां-तहां गाड़ी रोक कर सवारी बैठाते और उतारते हैं। पटलबाबू रोड, एमजी रोड समेत अन्य सड़कों का भी यही हाल है।

खबरें और भी हैं...