विडंबना:जाम से राहत को बने प्राेजेक्ट; आरसीडी में अटका बाइपास और नगर विकास में बस स्टैंड

भागलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डीआइजी काेठी राेड@प्रस्तावित बाइपास। - Dainik Bhaskar
डीआइजी काेठी राेड@प्रस्तावित बाइपास।
  • साल बीतने काे है, पर याेजना फाइलाें में ही, पंचायत चुनाव के बाद शुरू होने की उम्मीद

शहर काे जाम से राहत दिलाने के लिए बने तीन प्राेजेक्ट अब तक पूरे नहीं हुए। साल बीतने काे है, पर एक भी प्रोजेक्ट पर काम शुरू नहीं हुआ। इनमें घंटाघर से आदमपुर हाेते हुए मायागंज से आनंदगढ़ काॅलाेनी के बीच बाइपास निर्माण, बस स्टैंड और शहर के इंट्री प्वाइंट पर बनने वाले टेंपाे पड़ाव का मामला अटका है। अब पंचायत चुनाव खत्म हाेने काे है। ऐसे में इस पर काम होने की संभावना बढ़ गई है।

बाइपास को एस्टीमेट पथ निर्माण विभाग(आरसीडी) काे भेजा है, लेकिन विभाग में पंचायत चुनाव के कारण अटक गया। बाइपास के बगल में रक्शाडीह के पास पाैने दाे एकड़ जमीन बस स्टैंड को चिह्नित की है। यह प्रस्ताव नगर विकास विभाग में अटका है। साथ ही शहर के इंट्री प्वाइंट पर टेंपाे पड़ाव के चिह्नित स्थल के लिए भी फिर से पहल करने की तैयारी है।लेकिन उक्त सभी प्रोजेक्ट पर अब नए साल में ही काम शुरू होने की उम्मीद है।

इंट्री प्वाइंट पर चिह्नित टेंपाे पड़ाव काे लेकर डीएम बुलाएंगे बैठक
डीएम सुब्रत कुमार सेन ने बताया, 6 इंट्री प्वाइंट पर टेंपाे पड़ाव की तैयारी थी, लेकिन टेंपाे राेकने से बुजुर्ग, बच्चे और महिलाओं काे पैदल आने-जाने में परेशानी हाेने लगी। बाहर से आनेवाले मरीजाें काे भी दिक्कत हाेने लगी। इसलिए इसे बंद किया गया। पंचायत चुनाव खत्म हाेने के बाद डीटीओ, एसडीओ, नगर आयुक्त और पुलिस अफसरों संग बैठक कर इस पर विचार किया जाएगा। तय करेंगे कि कैसे टेंपाे पड़ाव की व्यवस्था ढंग से संचालित होगी। उन्हाेंने बताया, बस स्टैंड का प्रस्ताव नगर विकास काे भेजा है। नगर विकास विभाग से इस पर पहल होगी।

जानिए, जाम से निजात दिलाने के लिए बने प्राेजेक्ट की क्या है स्थिति

1. टेंपाे पड़ाव : 6 जगह चिह्नित, चुनाव बाद हाेगी पहल
दिसंबर 2020 में शहर बाहर से आने वाले टेंपो से जाम न हो, इसलिए इंट्री प्वाइंट पर भी टेंपाे पड़ाव के लिए 6 स्थान चिह्नित किए। इनमें विक्रमशिला सेतु के पहुंच पथ के पास हाउसिंग बाेर्ड के पास, भागलपुर इंजीनियरिंग काॅलेज के पास, बाइपास के टाेल प्लाजा के पास, रक्शाडीह के पास, दाउदवाट में दाे जगहाें पर सरकारी जमीन पर और नाथनगर में चंपानाला पुल के दाेनाें तरफ की जगह शामिल है। लेकिन अब तक कुछ नहीं हुआ। नगर आयुक्त प्रफुल्लचंद्र यादव ने बताया, इस पर प्रशासन चुनाव के बाद पहल करेगा।

2. बाइपास : 4.4 किमी लंबा बनना है, पर विभाग से मंजूरी नहीं
घंटाघर चौक, आदमपुर चौक, बड़ी खंजरपुर, डीआईजी कोठी, तिलकामांझी-डीएम आवास से आनंदगढ़ काॅलोनी हाेते हुए एनएच-80 तक 12 करोड़ से 4.4 किमी. बाइपास बनना है। इसका एस्टीमेट पथ निर्माण िवभाग काे भेजा है। इसे भी सालभर बीतने काे है, पर इस पर कुछ नहीं हुआ। पथ निर्माण विभाग के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर नवल किशाेर सिंह ने बताया कि अभी मामला विभाग के पास है।

3. बस स्टैंड की जगह तय, काम नहीं, सड़क पर खड़ी हाे रही बसें
जीराेमाइल से बस स्टैंड हटाए 5 साल बीते, लेकिन बस स्टैंड नहीं बना। इसके लिए पथ निर्माण विभाग की बाइपास के बगल में रक्शाडीह के पास जमीन चिह्नित की गई। करीब पाैने दाे एकड़ जमीन पर बस स्टैंड बनाने का प्रस्ताव नगर विकास विभाग काे भेजा, पर मामला अटक गया है। बस स्टैंड न हाेने से शहर में सड़काें पर जहां-तहां बसें खड़ी हाे रही हैं। इससे जाम की स्थिति बन रही है।

जाम से निपटने काे 23 काे कमिश्नर करेंगे बैठक
जाम से निपटने के लिए 23 दिसंबर काे कमिश्नर प्रेम सिंह मीणा ने बैठक बुलाई है। इसमें भागलपुर-बांका के डीएम-एसपी, नवगछिया एसपी शामिल होंगे। समाधान की रणनीति बनेगी। इसके लिए कार्ययाेजना व रिपाेर्ट 20 दिसंबर तक मांगी गई है।

खबरें और भी हैं...