आंधी से बचने में 2 बच्चियों की मौत:बारिश से बचने के लिए भाग रही थी घर की ओर, पैर फिसलने से पोखर में गिरी

भागलपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
राधा कुमारी(फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
राधा कुमारी(फाइल फोटो)

भागलपुर जिले के कहलगांव प्रखंड अंतर्गत भोलसर पंचायत में शाम के वक्त अचानक तेज आंधी-बारिश दो बच्चियों के लिए काल बन कर आई। दरअसल, बारिश और आंधी से बचने के लिए बहियार से भाग कर तेजी से घर लौट रही दोनों बच्चियां फिसलने के कारण पंचायत भवन के पीछे स्थित पोखर में गिर का डूब गई, जिससे दोनों की मौत हो गई। आंधी-बारिश खत्म होने के बाद दोनों बच्चियों के घर नहीं लौटने पर परिजन व ग्रामीणों द्वारा खोजबीन प्रारंभ की गई। इस बीच कुछ युवकों ने पंचायत सरकार भवन भोलसर के पीछे स्थित गौर पोखर में दोनों बच्ची का शव तैरते देखने के बाद शोर मचाया। सूचना पर मौके पर पहुंचे ग्रामीणों की मदद से दोनों बच्चियों का शव पोखर से बाहर निकला गया।

सूचना मिलते ही रसलपुर थाने की पुलिस पहुंची मौके पर
ग्रामीणों द्वारा घटना की जानकारी मिलने पर कुछ ही देर में ही रसलपुर थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इस दौरान ग्रामीणों व परिजनों से घटना के बाबत पूछताछ के उपरांत दोनों बच्चियों के शव को थाने लाया गया। घटना के संबंध में परिजनों ने बताया कि दोनों बच्चियां भोलसर स्थित अपने नानी के घर आई थी। मृत बच्चियों की पहचान हबीबपुर थाना क्षेत्र के डाटवाट निवासी रंजीत कुमार की 10 वर्षीय पुत्री राधा कुमारी और तिनटंगा के करारी गांव निवासी अखिलेश पासवान की 9 वर्षीय पुत्री गौरी कुमारी के रूप में हुई है।

मृतक बच्चियां आपस में लगती थी मौसी व भगनी

परिजनों से मिली जानकारी के मुताबिक दोनों बच्चियां आपस में मौसी और भगनी लगती थी। एक साथ दो बच्चियों की मौत से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है, जबकि भोलसर पंचायत में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। घटना की सूचना मिलते ही पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि निरज मंडल, उप मुखिया, पंचायत समिति सदस्य संजय कुमार एवं सुबोध पासवान सहित भारी संख्या में ग्रामीण परिजनों को सांत्वना देने पहुंचे थे। इस संबंध में रसलपुर थानाध्यक्ष कन्हैया कुमार ने बताया कि दोनों मृत बच्चियों का शव बुधवार को पोस्टमार्टम के लिए भागलपुर के चिकित्सा महाविद्यालय भेजा जाएगा।