पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

अक्टूबर से ट्रेन के किराये में बड़ी राहत संभव:स्पेशल ट्रेनें बंद हाे सकती हैं, अफसर बोले-रेलवे बोर्ड से अभी नहीं आया है निर्देश

भागलपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ट्रेन से यात्रा करने वालों को पहली अक्टूबर से बड़ी राहत मिल सकती है। रेलवे रेगुलर ट्रेनों से स्पेशल का दर्जा हटाने की तैयारी में है। यानी भागलपुर रूट पर चलने वाली वैसी ट्रेनें, जिनका नंबर जीरो से शुरू होता है। उसे खत्म कर पूर्व के नंबर पर चलाया जा सकता है। रेगुलर ट्रेन होने से यात्रियों को नॉर्मल किराया ही देना होगा।

अभी स्पेशल के नाम पर करीब 100 से 500 रुपए तक ज्यादा चार्ज किया जा रहा है। इस संबंध में भागलपुर व अन्य स्टेशनों पर वाणिज्यिक विभागों में सुगबुगाहट शुरू हो गई है। हालांकि सीनियर अफसरों ने इससे इंकार किया है। सीनियर डीसीएम पवन कुमार ने बताया कि दर्जा हटाने का अधिकार रेलवे बोर्ड के पास है।

वहां से या कोलकाता से अभी निर्देश नहीं आया है। उधर, सीपीआरओ एकलव्य चक्रवर्ती ने बताया कि कोविड को देखते हुए यात्रियों की भीड़ ट्रेनों में ज्यादा ना हो, इसलिए स्पेशल ट्रेन देशभर में चलाई गई। जब तक कोविड समाप्त होने की औपचारिक घोषणा नहीं होती, तब तक स्पेशल ट्रेनें चलेंगी।

भागलपुर से डेमू और मेमू में ही अभी है नॉर्मल टिकट की सुविधा
भागलपुर रूट पर चलने वाली सभी एक्सप्रेस ट्रेनें स्पेशल बनकर चल रही है। सिर्फ डेमू-मेमू को नॉर्मल बनाकर चलाया जा रहा है। इसमें नॉर्मल टिकट लगता है। बाकी में स्पेशल चार्ज लगता है। जब कोविड का कहर खत्म हुआ तो इन्हीं ट्रेनों को मेला, समय व पूजा स्पेशल नाम देकर चलाया जाने लगा। इससे रेलवे की कमाई तो बढ़ी लेकिन यात्रियों के जेब पर भार बढ़ा।

खबरें और भी हैं...