पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

निर्णय के खिलाफ हाईकोर्ट जाएंगे चाराें वकील:स्टेट बार काउंसिल काे चार वकीलों का लाइसेंस रद्द करने की अनुशंसा भेजी

भागलपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला विधिज्ञ संघ (डीबीए) ने तदर्थ समिति के सदस्य अरुण कुमार सिंह की पिटाई के दौरान सिर फटने की घटना में आमसभा में दोषी ठहराये गए चारों वकीलों का लाइसेंस रद्द करने की अनुशंसा स्टेट बार काउंसिल से की है। तदर्थ समिति के सचिव अंजनी दुबे ने बार काउंसिल को आमसभा की कार्रवाई की कॉपी देते हुए महेश यादव, राजीव कुमार झा, अजीत कुमार और कपिलदेव कुमार का लाइसेंस रद्द करने की अनुशंसा की है। सचिव ने चारों का नाम एनरॉल रजिस्टर से काट दिए जाने की सूचना और कॉपी पर काटे गए नाम की छायाप्रति भी संलग्न किया है।

उधर, डीबीए की कार्रवाई को असंवैधानिक बताते हुए चारों वकीलों ने कहा कि यह हाईकोर्ट के फैसले का उल्लंघन है। पूर्व जस्टिस नवनीति प्रसाद सिंह ने संजय कुमार मोदी बनाम चैयरमेन, स्टेट बार काउंसिल के सिविल रिट में स्पष्ट किया है कि एडहॉक कमेटी काे कठोर कार्रवाई का पावर नहीं है। बार काउंसिल ऑफ इंडिया एक्ट में भी स्पष्ट किया गया है कि बगैर नाेटिस दिए किसी के खिलाफ कठोर कार्रवाई नहीं की जा सकती है। डीबीए की यह कार्रवाई हाईकोर्ट के आदेश की अवहेलना है। हमलोग हाईकोर्ट में डीबीए की पूरी प्रक्रिया को चुनौती देंगे।

खबरें और भी हैं...