नए शाखा प्रभारी ने नहीं दिया याेगदान:नगर निगम में निलंबित कर्मी कर रहा है काम

भागलपुर6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

नगर निगम में हुए ट्रेड लाइसेंस घोटाले में आरोपी सुनील हरि ने खुद को निलंबन मुक्त करने की मांग की है। सुनील ने सभी साक्ष्य के साथ नगर आयुक्त को आवेदन दिया है। उसने कहा है कि उस पर 8500 रुपए गबन का आरोप है।

जांच में उसका एमआर बुक प्रस्तुत नहीं किया गया था। जबकि उसने यह पैसा जमा किया है। दूसरी अाेर इस मामले में निलंबित पूर्व ट्रेड लाइसेंस शाखा प्रभारी निरंजन मिश्रा गुरुवार को भी निगम में काम करने रहे। उनका तर्क है कि शाखा का प्रभार मिलने पर उन्हें गड़बड़ी दिखी ताे इसकी जांच कराने काे कहा था। उसने काेई गड़बड़ी नहीं की है।

इधर, नए ट्रेड लाइसेंस शाखा प्रभारी देवेंद्र वर्मा ने नई शाखा में अपना योगदान अब तक नहीं दिया है। बुधवार को उन्होंने निगम प्रशासन से कहा था कि उन्हें किसी दूसरी शाखा में भेजा जाए। वहीं इस मामले में निलंबित हो चुके अकाउंटेंट आदित्य जायसवाल ने भी निगम प्रशासन को लिख कर दिया है कि उसने अपने हिस्से का पैसा जमा कर दिया है। उसने मांग की है कि कंप्यूटर ऑपरेटर पर मुकदमा कराया जाए।

खबरें और भी हैं...