पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लोग छठ मनाने आए हैं भागलपुर, रखें ध्यान:दिल्ली से लें सबक, सूर्यदेव से हम जिंदगी मांगते हैं, ऐसा न हो कि देनी पड़े, घर में पूजा करें

भागलपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
समीक्षा भवन में छठ पूजा पर सावधानी बरतने और घरों में पूजा की अपील करते डीएम प्रणव कुमार, एसएसपी आशीष भारती व डॉ. हेमशंकर शर्मा।
  • जिन घाटों पर होगी पूजा, वहां रखें सावधानी, जहां-तहां न थूकें सामाजिक दूरी भी मेंटेन करें
  • जिला प्रशासन और डॉक्टरों ने कोरोना से बचाव के लिए लोगों से की अपील

दिल्ली में कोरोना के मरीज बढ़ गए हैं। वहां से बड़ी तादाद में लोग छठ पूजा के लिए पहुंचे हैं। ऐसे में बेहद सावधान रहने की जरूरत है। दिल्ली हालत से सबक लीजिए। अब तक भागलपुर में लोगों ने अनुशासन और नियमों का पालन कर कोरोना पर विजय पाई है। छठ में ऐसा हो कि आप घाट पर जाएं और संक्रमित हो जाएं।

छठ पूजा में सूर्यदेव से जिंदगी मांगी जाती है, आपकी लापरवाही से ऐसा हो कि जिंदगी देनी पड़े। याद रखिए, कोरोना का अब तक कोई सटीक इलाज नहीं है। ये बातें कोरोना के नोडल अफसर डॉ. हेमशंकर शर्मा ने बुधवार को कहीं। वे छठ पूजा की प्रशासनिक व्यवस्था की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे। डीएम ऑफिस में हुई बैठक में पुलिस-प्रशासन और मेडिकल के सीनियर अफसरों की बैठक में उन्होंने कहा, घर पर पूजा करें। घाट पर संक्रमण का खतरा रहेगा। बैठक के बाद डीएम प्रणव कुमार, एसएसपी आशीष भारती, नगर आयुक्त जे. प्रियदर्शिनी, सिविल सर्जन डाॅ. विजय कुमार सिंह, मायागंज अस्पताल अधीक्षक डाॅ. एके भगत व कोरोना के नाेडल अफसर डाॅ. हेमशंकर शर्मा ने संयुक्त रूप से प्रेस कॉन्फ्रेंस कर लोगों से घर पर ही पूजा करने की अपील की। सभी ने कहा, गंगा घाट में डुबकी नहीं लगाएं। इससे संक्रमण का खतरा बढ़ेगा। डाॅक्टराें ने कहा, 40 से 60 साल के बीच के लाेग का डेथ रेसिया अधिक है।

डाॅ. हेमशंकर शर्मा ने कहा, डाॅक्टराें की पूरी टीम किसी काे कुछ नहीं हाेने देगी, लेकिन लाेगाें काे अनुशासन मानना हाेगा। नियमाें का पालन करना हाेगा। मायागंज अस्पताल अधीक्षक डॉ. भगत ने कहा, छठ पूजा पर सभी डाॅक्टर अस्पताल में रहेंगे। डीएम प्रणव कुमार ने कहा, हनुमान घाट व बरारी वाटर वर्क्स घाट काे खतरनाक घाट के रूप में चिह्नित किया गया है। घाटाें पर भी सारी प्रशासनिक व्यवस्था हो रही है। निजी नाव बंद रहेगी। उन्हाेंने भी छठव्रतियाें से भी प्राेटाेकाॅल का पालन करने में सहयाेग मांगा है।

दिल्ली में फैला है कोरोना, लोग छठ मनाने आए हैं भागलपुर, रखें ध्यान, खुद बचें, अपनों को भी बचाएं

डीएम बोले- घाटाें पर न थूके, प्रसाद भी नहीं बांटें
डीएम प्रणव कुमार ने कहा, इस बार सुरक्ष के साथ त्योहार मनाएं। जहां तक हो, घर पर ही पूजा करें। गंगा किनारे भीड़ जुटती है। इससे काेराेना संक्रमण फैलने की आशंका रहती है। माेहल्ले के अस्थायी तालाब या घराें में पूजा करें। साेशल डिस्टेसिंग मेंटेन रखें। प्रसाद का वितरण नहीं हाेगा। घाटाें पर जहां-तहां थूंकने पर राेक रहेगी। अर्घ्य देने के दाैरान डुबकी नहीं लगाना है, इसलिए घाटाें पर बैरिकेडिंग हो रही है। उन्हाेंने कहा, सामुदायिक प्रसाद, भाेज पर राेक रहेगी। 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग व 10 साल से कम उम्र के बच्चे और बीमार व्यक्ति घाट पर न जाएं। मेला, जागरण और सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं हाेगा।

घर खाली छोड़ें तो पुलिस को दें सूचना: एसएसपी
एसएसपी आशीष भारती ने कहा, छठ पर्व काे लाेग लंबी आयु के लिए मनाते हैं। सभी लाेग सुरक्षित रहें, इसलिए घाटों पर भीड़ न लगाएं। उन्हाेंने कहा, जाे लाेग अपने घर काे खाली छाेड़कर छठ पूजा करने गांव जाते हैं, वे इसकी सूचना अपने इलाके के थानेदार को जरूर दें। पुलिस उनके घर की रखवाली करेगी।
काेराेना नहीं, सिर्फ भय खत्म हुआ: अधीक्षक
मायागंज अस्पताल के अधीक्षक डाॅ. ए.के. भगत ने कहा, काेराेना खत्म नहीं हुआ है। लेकिन इसका भय खत्म हो रहा है। दाे दिन पहले एक भी संक्रमित नहीं मिला था। मरीजों की संख्या घटी है, लेकिन बाहर से जाे लाेग अाए हाेंगे, उनसे काेराेना के फैलाव का खतरा रहेगा।

पूजा में इसका रखें ध्यान

  • चार पहिए वाहन लेकर घाट पर न जाएं।
  • बीपी, डायबिटीज, किडनी और सांस व अन्य बीमारी से पीड़ित लाेग घाट पर न जाएं।
  • पानी में डुबकी नहीं लगाएं।
  • सामाजिक दूरी मेंटेन करें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- कुछ महत्वपूर्ण नए संपर्क स्थापित होंगे जो कि बहुत ही लाभदायक रहेंगे। अपने भविष्य संबंधी योजनाओं को मूर्तरूप देने का उचित समय है। कोई शुभ कार्य भी संपन्न होगा। इस समय आपको अपनी काबिलियत प्रदर्...

और पढ़ें