पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

अव्यवस्था:पांच विषयाें की सेंटअप परीक्षा लेने के बाद बदल गई तिथि, अब 11 से 19 नवंबर तक दोबारा ली जाएगी

भागलपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • आर्थिक तंगी का सामना कर रहे छात्र-छात्राओं काे होगी परेशानी

इंटरमीडिएट की सेंटअप परीक्षा तीन दिनाें तक हाेने बाद अब री-शिड्यूल कर दी गई है। लाॅकडाउन के कारण आर्थिक तंगी का सामना कर रहे छात्र-छात्राओं काे इससे काफी परेशानी हाे रही है। पूरे वर्ष छात्राें ने लाॅकडाउन के कारण कक्षाएं नहीं की। किसी तरह घर पर पढ़ाई की। अब इस थाेड़ी बहुत तैयारी के साथ उन्हाेंने 14 अक्टूबर से सेंटअप परीक्षा देनी शुरू की। कई छात्र आर्थिक तंगी से कारण गांव चले गए थे।

वे वहां से परीक्षा देने आए। अब उन्हें दुबारा सेंटअप परीक्षा देनी हाेगी। दरअसल बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने अब 11 से 19 नंबर तक सेंटअप परीक्षा का शिड्यूल जारी किया है। सभी छात्र-छात्राओं काे अब इस नए शिड्यूल के हिसाब से परीक्षा देनी हाेगी। ये परीक्षा 11 से 19 नवंबर तक हाेगी।

फिजिक्स और मैथेमेटिक्स तक की परीक्षा दे चुके थे विद्यार्थी
जिले के 147 हाई स्कूल व काॅलेजाें में 14 अक्टूबर से इंटर की सेंट अप परीक्षा हुई थी। विद्यार्थियाें ने फिजिक्य, मैथेमेटिक्स, बायाेलाॅजी, जियाेग्राफी, इकाेनाॅमिक्स, इंग्लिश, पाॅलिटिकल साइंस और इंग्लिश की परीक्षा दे दी थी। जब केमेस्ट्री की परीक्षा देने 16 काे स्कूल गए तो तिथि बढ़ने की जानकारी दी।

प्रश्न पत्र काे लेकर हुई गड़बड़ी
बीएसईबी ने 14 अक्टूबर से जाे इंटरमीडिएट की परीक्षा का निर्देश दिया था उससे प्रश्नाें काे लेकर गड़बड़ी थी। मुख्यालय से प्रश्न भेजे थे। स्कूलाें काे पांच नवंबर तक सुविधा अनुसार परीक्षा लेने को कहा था। मुख्यालय से पूरे सूबे में प्रश्न पत्र भेज गए थे। ऐसे में पहले जिस स्कूल में जिस विषय की परीक्षा पहले हुई उसका प्रश्न आउट हाे गया था।

चुनाव के बाद होगी परीक्षा
सेंटअप परीक्षा की तिथि आगे बढ़ा दी गई है। अब चुनाव के बाद से मैट्रिक और इंटर की सेंटअप परीक्षा का आयोजन होगा।
-संजय कुमार, डीईओ।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- पिछले कुछ समय से आप अपनी आंतरिक ऊर्जा को पहचानने के लिए जो प्रयास कर रहे हैं, उसकी वजह से आपके व्यक्तित्व व स्वभाव में सकारात्मक परिवर्तन आएंगे। दूसरों के दुख-दर्द व तकलीफ में उनकी सहायता के ...

और पढ़ें