गैंगवार का खुलासा हुआ / कटिमना की हत्या के पीछे गैंगवार का खुलासा शुभम का बदला लेने के लिए दी गई थी सुपारी

सुपारी किलर राहुल सिंह और अशोक मंडल। (लाल घेरे में) सुपारी किलर राहुल सिंह और अशोक मंडल। (लाल घेरे में)
X
सुपारी किलर राहुल सिंह और अशोक मंडल। (लाल घेरे में)सुपारी किलर राहुल सिंह और अशोक मंडल। (लाल घेरे में)

  • खुला राज...शुभम की हत्या में शामिल था कटिमना का भाई विक्की

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

भागलपुर. विक्रमशिला कॉलोनी निवासी सोनू सिंह उर्फ कटिमना की हत्या की साजिश के पीछे बड़े गैंगवार का खुलासा हुआ है। पुलिस की जांच में आया है कि होली के दिन विक्रमशिला कॉलोनी में पीर बाबा स्थान के पास बीएन कॉलेज के छात्र शुभम साकेत (जमीन फुलवरिया, जगदीशपुर) की चाकू गोद कर हत्या कर दी गई थी। इस हत्या में कटिमना का भाई विक्की सिंह जेल में बंद है। शुभम की हत्या का बदला लेने के लिए बरहपुरा के अपराधी सन्नी खटाल ने राहुल सिंह और अशोक मंडल को कटिमना की हत्या की सुपारी दी थी। गिरफ्तार राहुल ने पुलिस की पूछताछ में उक्त बातों का खुलासा किया है।

पलटू यादव का सहयोगी था शुभम साकेत
होली के दिन जिस शुभम साकेत की हत्या हुई थी और वह पलटू यादव का सहयोगी था। इस हत्या में कटिमना का भाई विक्की सिंह शामिल था। पलटू और कटिमना के बीच विवाद है। पलटू पर केस भी दर्ज करा चुका है। इस कारण विक्की ने पलटू के सहयोगी शुभम की हत्या कर दी थी।

5 जून को चली थी गोली
5 जून को घूरनपीर बाबा चौक के पास इंडोर स्टेडियम के बाहर कार सवार कटिमना और उसके दोस्तों पर राहुल और अशोक ने ही गोली चलाई थी, लेकिन कटिमना बच गया था। गोली कार में लगी। बचने के बाद सुपारी किलर राहुल और अशोक ने फिर से रेकी शुरू की। तब पता चला कि 28 जून को तिलकामांझी थाने के पास दशरथ चाय दुकान के बाहर कटिमना खड़ा है। यह जानकारी राहुल को उसके मोबाइल पर मिली। राहुल अपने सहयोगी अशोक के साथ हथियार-गोली लेकर वहां पहुंचा तो कटिमना को भनक लग गई तो पुलिस बुला गिरफ्तार करवा दिया, अशोक वहां से भाग निकला।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना