बिजली की कटौती शुरू:दोपहर 2 बजे से गुल हुई बत्ती आज भी हो सकता है संकट

भागलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

काली प्रतिमा विसर्जन को लेकर शनिवार दोपहर 2 बजे से ही बिजली की कटौती शुरू हो गई। 24 घंटे से अधिक देर तक चलने वाले विसर्जन के दौरान रविवार देर रात तक बिजली आपूर्ति बाधित रह सकती है।

शनिवार को अलीगंज क्षेत्र में मूर्ति विसर्जन को लेकर दोपहर 2 बजे से ही बिजली काट दी गई। यहां शाम 7 बजे आपूर्ति के बाद लोगों को राहत मिली। दक्षिणी क्षेत्र के मिरजान में विक्रमशिला फीडर 2 बजे बंद रहा।

इससे जुड़े दर्जनों इलाकों में रात 8 बजे तक बिजली नहीं आई। मुंदीचक में विसर्जन को लेकर हॉस्पिटल फीडर शाम 4 बजे बंद रहा। परबत्ती की मूर्ति जैसे ही उठने वाली थी कि यूनिवर्सिटी फीडर बंद कर दिया गया।

दरअसल, प्रतिमा विसर्जन के दौरान बरसों से बिजली की कटौती होती रही है। बिजली कंपनी का दावा है, अगले साल से राहत मिलेगी। विसर्जन रूट पर अगले माह से केबल व क्रॉसिंग पर अंडरग्राउंड तार लगेंगेे। अप्रैल में टाटा पावर को यह करना था। अब दिसंबर तक काम पूरा होगा।

अगले माह से बिछेंगे अंडरग्राउंड केबल
शहर में 1345 किलोमीटर क्षेत्रफल में 33 हजार, 11 हजार और लो टेंशन लाइन हैं। विद्युत कार्यपालक अभियंता संजीव कुमार ने बताया, केबलिंग, रोड क्रासिंग की जगहों पर अंडरग्राउंड तार बिछाने, तारों को ऊंचा करने के लिए पोल बदलने का काम दिसम्बर से शुरू होगा। 2022 में प्रतिमा विसर्जन शोभायात्रा के दौरान बिजली कटौती की समस्या नहीं रहेगी।
कई जगह हाईटेंशन तार हुए अंडरग्राउंड
अलीगंज पीएसएस से लेकर मोजाहिदपुर पावर हाउस तक 4 किमी. तार अंडरग्राउंड हो चुके हैं। मोजाहिदपुर पावर हाउस को जाने वाली 33 केवीए लाइन डबल हो गई है। नाथनगर सीटीएस में तीन किमी. तार अंडग्राउंड किया गया है। हाउिसंग बोर्ड में एक किमी., भीखनपुर में तीन, टीएनबी कॉलेज के पास, हबीबपुर के पास रोड कॉसिंग में तार अंडग्राउंड की गई है। अब यहां फॉल्ट खत्म हो गए हैं।

खबरें और भी हैं...