पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सवा 2 माह बाद भी सुराग नहीं:सोना लूट में अब 2013 की वारदात में शामिल बदमाश पुलिस की रडार पर

भागलपुर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • डीएन सिंह रोड में हुई थी 90 लाख के सोने की लूट
  • आरोपियों को बुलाकर पुलिस कर सकती है पूछताछ

90 लाख के सोना लूट मामले में सवा दो माह की जांच के बाद पुलिस बैकफुट पर है। जांच में जब पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला तो 2013 में हुए सोना लूट मामले के 11 बदमाशों पर एसआईटी जांच की तैयारी कर रही है। 2013 में बदमाशों ने आनंद चिकित्सालय रोड में स्वर्णिका ज्वेलर्स का 45 लाख का सोना लूट लिया था।

इस मामले की जांच में पुलिस ने भागलपुर और बांका के 11 बदमाशों की संलिप्तता का खुलासा किया था। सभी पर पुलिस ने चार्जशीट भी फाइल की थी। पुन: 2021 में इसी तर्ज पर 90 लाख का सोना लूट लिया गया। दोनों घटनाओं में समानता रहने के कारण पुराने केस के बदमाश पुलिस की रडार पर हैं।

2013 वाले केस में पुलिस ने रहमान उर्फ टेढ़वा, पंकज कुमार, अरुण यादव, पंकज यादव, मुन्ना पंडित, बैजू उर्फ बिरजू तांती, संतोष झा उर्फ बाबा, अजय साह, राजन साह उर्फ रंजन कुमार साह, विजय पासवान, कारू साह का नाम पुलिस ने जांच में लाया था। वर्तमान में उक्त सारे आरोपी की क्या गतिविधि है, इसकी पुलिस जांच की तैयारी कर रही है। हो सकती है कि उक्त आरोपियों को बुलाकर पुलिस पूछताछ भी करे।

कैमरे में कैद हुई थी पूरी वारदात फिर भी बदमाशों की पहचान नहीं

6 फरवरी को डीएन सिंह रोड में हुई सोना लूट की पूरी वारदात घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई थी। पुलिस ने फुटेज के सहारे बदमाशों की पहचान की तमाम कोशिश की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। लूटपाट के बाद बदमाश विक्रमशिला पुल होते हुए नवगछिया की ओर भागे थे। पुलिस ने बदमाशों के भागने वाले रास्ते के सारे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को खंगाल लिया, लेकिन पहचान नहीं हुई।

लूटे गए सोने को बेच चुकाया था कर्ज कराई थी एफडी, खरीदी थी जमीन

19 सितंबर 2013 को बदमाशों ने विशाल स्वर्णिका ज्वेलर्स का 46 लाख का सोना कोतवाली इलाके के आनंद चिकित्सालय रोड में लूट लिया था। इस मामले में दुकान के एक स्टाफ की भूमिका का खुलासा हुआ था, जिसने बदमाशों के लिए मुखबिरी की थी। बाद में उस स्टाफ को हटा भी दिया गया था।

2013 में भी दुकान का स्टाफ कोलकाता से सोना लेकर भागलपुर रेलवे स्टेशन पर उतरा और वहां से मालिक का घर जाने दौरान उससे लूट हो गई थी। मामले में कोतवाली थाने में केस दर्ज हुआ था। लेकिन अब तक लूटा गया सोना बरामद नहीं हो पाया है।

पुलिस की जांच में यह खुलासा हुआ था कि लूट का सोना अमरपुर (बांका) के बंगाली सोनार के यहां गला था। सोना लूट के बाद वारदात में शामिल मास्टरमाइंड संतोष झा उर्फ बाबा, बंगाली सोनार समेत कई संदिग्धों ने महाजनों से लिया गया कर्ज चुकता कर दिया था। कुछ बदमाशों ने लूटे गए सोने को बेच कर एफडी और कुछ ने लूट का सोना बेच कर जमीन भी खरीदी थी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें