• Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • The Team That Survived Being A Victim Of Mob Lynching, Said The Man Who Beat Up The Mine Inspector Fined 2 Lakh Due To This, Put An End To It

ओवरलोड ट्रैक्टर काे पकड़ा ताे खान निरीक्षक काे पीटा:मॉब लिंचिंग का शिकार होने से बची टीम, खान निरीक्षक काे पीटने वालाें ने कहा-इसके कारण 2 लाख जुर्माना लगा, इसे खत्म कर दाे

भागलपुर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मारपीट की घटना जानकारी लेते जीरोमाइल थानेदार राज कुमार प्रसाद। - Dainik Bhaskar
मारपीट की घटना जानकारी लेते जीरोमाइल थानेदार राज कुमार प्रसाद।
  • लोनी मोड़ की घटना, सैप जवानों को गाड़ी में बनाया बंधक
  • इससे पहले भी जब्त ट्रक लेकर भाग चुके हैं आराेपी, दर्ज हुआ था केस

जीरोमाइल के ज्योति विहार कॉलोनी मोड़ पर बुधवार शाम को खान निरीक्षक मुनि महेश सिंह और उनकी टीम मॉब लिंचिंग का शिकार होने से बच गई। ओवरलोड गिट्‌टी भरा ट्रैक्टर पकड़ने पर गाड़ी मालिक और उसके समर्थकों ने खान निरीक्षक की बीच सड़क पर पिटाई कर दी। खान निरीक्षक को बचाने आए उनके ड्राइवर मो. गुड्‌डू को भी उनलोगों ने पीटा।

खान निरीक्षक के साथ हथियार वाले दोनों सैप जवानों को भीड़ ने गाड़ी में ही बंधक बना लिया। जीरोमाइल थाने की पुलिस पहुंची तो खान निरीक्षक और उनकी टीम की जान बची। पिटाई में खान निरीक्षक को अंदरुनी चोट आई है। उनके गर्दन पर चोट के निशान हैं। जबकि उनके ड्राइवर मो. गुड्‌डू को कनपटी में चोट लगने से एक कान में सुनाई नहीं दे रहा है।

पिटाई करने वालों में एक की पहचान गुलशन राज के रूप में हुई है। जबकि बाकी 15-20 लोगों की पहचान का प्रयास किया जा रहा है। जीरोमाइल के ज्योति विहार कॉलोनी मोड़ पर बुधवार शाम को हुई घटना के बाद खान निरीक्षक ने बताया कि कुछ माह पहले बरारी थाने में उन्होंने गुलशन राज, पिंकू कुमार, चंदन कुमार, सुनील यादव, नीरज साह उर्फ निर्मल साह, सिंटू यादव, ट्रक ड्राइवर आशुतोष श्रीवास्तव और खलासी ओमकार यादव व अन्य के खिलाफ चेकिंग के दौरान खनन विभाग की टीम के साथ अभद्र व्यवहार करने और जब्त ट्रक को ले भागने का केस दर्ज कराया था।

इसी केस से आक्रोशित आरोपियों ने बुधवार शाम को भी मारपीट की। उन्होंने बताया कि मारपीट करने वाला गुलशन बोल रहा था कि इस अफसर के कारण 2 लाख का जुर्माना लगा था। इसलिए इसे मारपीट कर खत्म कर दो।

चालान मांगने पर 15-20 लोगों को बुला लिया
खान निरीक्षक ने बताया कि वह चेकिंग करने सबौर की ओर जा रहे थे। जीरोमाइल चौक से आगे बढ़ने पर सबौर की ओर से गिट्‌टी भरा ओवरलोड ट्रैक्टर आ रहा था, जिसे रोक कर चालान मांगा गया। इस पर ड्राइवर ने कहा कि चालान मालिक के पास है। ड्राइवर ने फोन कर मालिक को सूचना दी। इसके बाद 15-20 लोग तुरंत वहां पहुंच गए।

पुलिस के आने से पहले ओवरलोड गाड़ी लेकर हुए फरार
घटना से खनन विभाग की टीम इतनी डरी हुई थी कि पास में स्थित जीरोमाइल थाने को भी सूचना नहीं दे पाई। बीच सड़क पर हंगामा देख किसी राहगीर ने जीरोमाइल थानेदार को घटना की जानकारी दी। तब थानेदार राज कुमार प्रसाद और जमादार कुमोद कुमार मौके पर पहुंचे। लेकिन पुलिस के पहुंचने से पहले ही मारपीट करने वाले सारे लोग ओवरलोड ट्रैक्टर को लेकर फरार हो गए।​​​​​​​

सैप जवानों को गाड़ी में किया बंद
गुलशन राज ने खान निरीक्षक और उनके ड्राइवर के साथ बीच सड़क पर मारपीट की। टीम में शामिल दोनों सैप जवान हथियार लेकर बाहर निकलने के प्रयास किया तो दोनों को भीड़ ने स्कॉर्पियो में ही बंद कर दिया। इस कारण खान निरीक्षक और ड्राइवर को बचाने के लिए सैप जवान बाहर नहीं निकल पाए। इस मामले में खान निरीक्षक ने जीरोमाइल थाने में मारपीट, सरकारी काम में बाधा पहुंचाने आदि केस दर्ज कराया है। दोनों घायलों का इलाज सदर अस्पताल में हुआ।

घायल ड्राइवर मो. गुड्डू।
घायल ड्राइवर मो. गुड्डू।
खबरें और भी हैं...