पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bhagalpur
  • The Vice Chancellor Will Monitor The Pending Cases Of Pension, The Former Sports Secretary Had Boycotted The Ceremony

विराेध:पेंशन के लंबित मामलों की कुलपति करेंगी निगरानी,पूर्व क्रीड़ा सचिव ने समाराेह का किया था बहिष्कार

भागलपुर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

टीएमबीयू में जब तक गड़बड़ियाें का विराेध और आपत्ति नहीं हाे, अधिकारी नहीं सुनते हैं। पेंशन के मामले में यह साबित हाे रहा है। कई रिटायर्ड शिक्षक लंबे समय से पेंशन और सेवांत लाभ का इंतजार कर रहे हैं, बार-बार आवेदन दे रहे हैं। लेकिन विवि प्रशासन पर असर नहीं हाे रहा था। पर जब एक दिन पहले टीचर्स डे पर सेवानिवृत्त शिक्षकाें के लिए टीएमबीयू में हुए सम्मान समाराेह का पूर्व क्रीड़ा सचिव डाॅ. सदानंद झा ने यह कहकर बहिष्कार कर दिया कि जब समय पर पेंशन नहीं ताे सम्मान कैसा, तब असर हाेता दिखा रहा है।

साेमवार काे टीएनबी काॅलेज में हुए टीचर्स डे कार्यक्रम में शिरकत करने आईं कुलपति प्राे. नीलिमा गुप्ता ने कहा कि अब पेंशन के मामले वह खुद देखेंगी। उन्हाेंने माना कि रिटायर्ड शिक्षकों के पेंशन लंबित होने के मामलाें की उन्हें जानकारी है। हालांकि जानकारी हाेने के बाद भी मामले लंबित क्याें हैं, यह उन्हाेंने स्पष्ट नहीं किया लेकिन कहा कि जिन पूर्व शिक्षकों की पेंशन लंबित है वे अपना नाम, संस्थान का नाम, पद, मामला और विवि कब में डाॅक्यूमेंट दिया था, इसका आवेदन उन्हें दें। वह इसकी माॅनटरिंग करेंगी। उन्हाेंने कहा कि अन्य शिक्षक भी रिटायरमेंट की तिथि से छह माह पहले अपने डाॅक्यूमेंट जमा करा दें ताकि प्रक्रिया समय पर पूरी हाे सके। इधर जानकाराें ने कहा कि टीएमबीयू में करीब डेढ़ साल से पेंशन सेल की बैठक नहीं हुई है। पेंशन अदालत हर महीने के अंतिम हफ्ते में लगती थी। अंतिम पेंशन अदालत पूर्व प्रभारी कुलपति डाॅ. संजय चाैधरी के समय लगी थी।

खबरें और भी हैं...