मुंबई से भागलपुर आ रहीं ट्रेनें फुल, 200+ वेटिंग:दीपावली और छठ पर भागलपुर आने वाली वीकली स्पेशल ट्रेनों में नहीं मिल रहा टिकट

भागलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दीपावली व छठ पर मुंबई से भागलपुर आने के लिए चल रही वीकली स्पेशल ट्रेनों में भी यात्रियों को टिकट नहीं मिल रहा। वापस लौटने की मारामारी के कारण लंबी दूरी की कई ट्रेनों में वेटिंग 300 या इससे अधिक है। कई में नो रूम की स्थिति है। मुंबई से भागलपुर आने वाली ट्रेन में 30 अक्टूबर को 225 और 6 नवंबर को 200 से अधिक वेटिंग है। इधर, पूर्व रेलवे से देर रात तक इस ट्रेन को सिस्टम में फीड करने की उम्मीद है। सिस्टम में फीड होते ही भागलपुर से मुंबई चलने वाली साप्ताहिक त्योहार स्पेशल की टिकट बुकिंग भी शुरू होगी।

12 स्लीपर, एसी के 4 कोच, 4 जनरल और दो एसएलआर में भी सीटें नहीं
साप्ताहिक स्पेशल ट्रेन 30 अक्टूबर से 23 नवंबर तक चलेगी। दीपावली और छठ पूजा में यात्रियों की ट्रेनों में भीड़ और लंबी दूरी की ट्रेनों में बर्थ खाली न हाेने पर रेलवे बोर्ड ने पूजा स्पेशल चलाने का निर्णय लिया है। मुंबई से 09185 पूजा स्पेशल हर शनिवार (30 अक्टूबर और नवंबर में छह, 13 व 20 तारीख को) और भागलपुर से 09186 हर मंगलवार (दो, नौ, 16 व 23 नवंबर) को चलेगी।
मुंबई से शनिवार सुबह 11:05 बजे खुलेगी और भरतपुर, मथुरा, फैजाबाद, कानपुर, पटना, किऊल और मुंगेर होते हुए सोमवार सुबह 10 बजे भागलपुर पहुंचेगी। वहीं भागलपुर से मंगलवार सुबह 5 बजे खुलेगी। 2497 किलोमीटर की दूरी 46.55 घंटे में तय करते हुए गुरुवार सुबह 7:20 बजे मुंबई पहुंचेगी। इस पूजा स्पेशल में पहले 22 कोच शामिल करने की घोषणा की गई थी, जिनमें 12 स्लीपर, एक एसी वन, थ्री एसी तीन, जेनरल बोगी चार व दो एसएलआर शामिल है। लेकिन, अब दो बोगियां कम कर दी गई है। चार की जगह दो जनरल बोगी करने के बाद अब इस ट्रेन में 20 बोगियां ही शामिल की गई है।

विक्रमशिला, दादर, सूरत में भी कंफर्म टिकट नहीं
भागलपुर से दिल्ली आनंद विहार चलने वाली विक्रमशिला एक्सप्रेस, भागलपुर-दादर और भागलपुर सूरत एक्सप्रेस की एससी, स्लीपर कोचों की कन्फर्म आरक्षित टिकट नहीं मिल रही हैं। 30 अक्टूबर तक सीटें फुल हो गई हैं। यही स्थिति दादर, दिल्ली और सूरत सहित भागलपुर आने वाली विक्रमशिला, दादर और सूरत एक्सप्रेस की भी है। 30 अक्टूबर तक इन ट्रेनों के एसी व स्लीपर बोगियों में सीट खाली नहीं है। उक्त ट्रेनों में भीड़ बढ़ने से लोगों की परेशानी बढ़ गई है।

खबरें और भी हैं...