कार्यक्रम:नदी के संरक्षण एवं प्रदूषण के रोकथाम का किया जा रहा है प्रयास: सूरत कुमार

परबत्ता3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गंगा घाट पर जागरूकता अभियान चलाते नेहरू युवा केंद्र के पदाधिकारी। - Dainik Bhaskar
गंगा घाट पर जागरूकता अभियान चलाते नेहरू युवा केंद्र के पदाधिकारी।
  • फेस मास्क पहने व गंगा घाट को स्वच्छ रखने को चलाया जागरूकता अभियान

परबत्ता प्रखंड के गंगा ग्राम सियादतपुर, उत्तरवाहिनी गंगा अगवानी घाट परबत्ता में नमामि गंगे परियोजना, जल शक्ति मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रायोजित नेहरू युवा केंद्र खगड़िया, युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार के दिशा निर्देशन में कोविड-19 से बचाव हेतु एवं मां गंगा को स्वच्छ और निर्मल बनाने के लिए मकर सक्रांति के शुभ अवसर पर श्रद्धालुओं में गंगा स्नान का प्रचलन है। इसी के मद्देनजर स्थानीय गंगा दूत के द्वारा लोगों के बीच कोविड-19 से बचाव हेतु फेस मास्क पहने और गंगा घाट को स्वच्छ रखने हेतु जन जागरूकता अभियान नमामि गंगे परियोजना के जिला परियोजना अधिकारी रजनीश कुमार के नेतृत्व में एवं परबत्ता प्रखंड के राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक सूरत कुमार के सहयोग से चलाया गया। जिसमें स्थानीय लोगों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया और नमामि गंगे के जिला परियोजना अधिकारी के द्वारा किए जा रहे हैं। जमीनी स्तर पर कार्य की सराहना करते हुए साधुवाद दिया। कार्यक्रम के पृष्ठभूमि पर नमामि गंगे परियोजना के जिला परियोजना अधिकारी रजनीश कुमार ने प्रकाश डालते हुए उपस्थित युवाओं को कहा कि भारत सरकार द्वारा नदी के संरक्षण एवं प्रदूषण के रोकथाम हेतु जन जागरूकता के लिए मकर सक्रांति के शुभ अवसर पर भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता के अनुसार गंगा स्नान का प्रचलन है। जिसके लिए विभागीय निर्देशानुसार लोगों को कोविड-19 से बचाव हेतु फेस मास्क पहनने एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए जन जागरूकता एवं जन सामान्य के प्रति गंगा घाट को स्वच्छ रखने के लिए जागरूकता अभियान चलाया गया। जिससे कि एक सकारात्मक संदेश समाज के लोगों में के बीच जाएं और समाज के प्रत्येक व्यक्ति मां गंगा को स्वच्छ रखने के लिए दृढ़ संकल्पित होकर समाज एवं राष्ट्र हित में कार्य करें। मौके पर सैकड़ों श्रद्धालु उपस्थित थे।

खबरें और भी हैं...