पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ग्रामीण परेशान:3 साल में गांव से गायब हुए 7 बिजली ट्रांसफार्मर, बिजली कंपनी के रिकाॅर्ड में नहीं जमा हुए ट्रांसफार्मर

पिपरिया11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

ग्राम पुरैनाकला में पिछले तीन साल से बिजली के सात ट्रांसफार्मर गायब हो चुके हैं। बिजली कंपनी के लोग गांव से ट्रांसफार्मर निकाल कर ले गए थे, इसके बाद वे ग्रामीणों को वापस नहीं मिले। बिजली कंपनी के स्थानीय अधिकारियों का कहना है कि यह ट्रांसफार्मर हमारे रिकॉर्ड में कहीं भी नजर नहीं आ रहे हैं।

कांग्रेस के महासचिव पुष्पराज सिंह और जिला सचिव धर्मेंद्र सिंह नागवंशी के नेतृत्व में सोमवार को ग्राम पुरैनाकला से आए ग्रामीणों ने एसडीएम नितिन टाले से मुलाकात कर लापता हुए ट्रांसफार्मर की तलाश करवाने में मदद करने का निवेदन किया। ग्राम पुरैना कला निवासी सुरेंद्र मालवीय ने बताया कि उनके खेत में लगा बिजली ट्रांसफार्मर लाइनमैन निकलवा कर ले गए।

लाइनमैन ने कहा था कि उच्च क्षमता का ट्रांसफार्मर लगाया जाएगा। यही नहीं गांव में सार्वजनिक उपयोग के लिए जिन बिजली ट्रांसफार्मर से बिजली की सप्लाई होती थी उन्हें भी हटा दिया गया। अब तक गांव के सात बिजली ट्रांसफार्मर हटाए जा चुके हैं। जिन्हें की वापस नहीं भेजा गया है। इस बारे में ग्राम पंचायत ने भी बिजली कंपनी को पत्र लिखे जिन पर ध्यान नहीं दिया गया। कांग्रेस नेता पुष्पराज सिंह पटेल और धर्मेंद्र नागवंशी ने एसडीएम को बताया कि संबंधित किसानों के पास बिजली कंपनी के लाइनमैन का लिखा हुआ एक पत्र है। जिसमें लाइनमैन स्वीकार कर रहा है कि वह गांव से बिजली ट्रांसफार्मर लेकर आया और उसने उन्हें बिजली कंपनी के ऑफिस में जमा करवा दिया है। अब बिजली कंपनी के अधिकारी कह रहे हैं कि उन्हें ट्रांसफार्मर के बारे में जानकारी नहीं है। बिजली कंपनी की लापरवाही के कारण पुरैनाकला के ग्रामीण खासे परेशान हैं। इस बारे में एसडीएम नितिन टाले ने किसानों को आश्वस्त किया है कि वे इस बारे में बिजली कंपनी के अधिकारियों से बात करने के उपरांत समस्या का समाधान करवा देंगे।

खबरें और भी हैं...