पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लेट-लतीफी:ब्रिज पर काम करने वाले आधे मजदूर भागे, निर्माण कार्य धीमा

पिपरिया14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पिपरिया। मजदूरों के चले जाने से धीरे चल रहा ओवरब्रिज का काम। - Dainik Bhaskar
पिपरिया। मजदूरों के चले जाने से धीरे चल रहा ओवरब्रिज का काम।
  • काेराेना के कारण नहीं मिल रहे मजदूर, काम हो रहा प्रभावित

पिछले साल की तरह इस वर्ष भी कोरोना ओवरब्रिज के निर्माण में परेशानी बन गया है। ब्रिज पर काम करने वाले आधे मजदूर कोरोना संक्रमण के चलते काम छोड़कर भाग चुके हैं, जिसके चलते ब्रिज के निर्माण कार्य में काम की गति धीमी हो गई है। निर्माण कंपनी ने इसे पहले मार्च फिर अप्रैल माह तक पूरा बनाने के लिए प्रशासन को आश्वस्त किया था।

सेतु विकास निगम के होशंगाबाद एसडीओ एआर मोरे ने बताया कि कोरोना संक्रमण के बाद भी ब्रिज का निर्माण कार्य चालू है। रेल पटरी के इतवारा बाजार रेलवे फाटक क्षेत्र में बन रहे ओवरब्रिज में रेल पटरी तक सीमेंट का काम हो चुका है वहीं मंगलवारा साइड में काली मंदिर के सामने लेंटर डाले जाने की तैयारियां चल रही हैं। यहां लोहे के पिलर डालने का काम चल रहा है।

मजदूर काम कर रहे हैं। जल्दी ही काली मंदिर साइड में रेल पटरी तक लेंटर का काम हो जाएगा। एक प्रकार से रोड साइड हिस्से का काम लगभग पूरा हो जाएगा। मोरे ने बताया कि काम ठीक चल रहा था, लेकिन जैसे ही कोरोना संक्रमण के दौरान कर्फ्यू लगने से आधे से ज्यादा मजदूर नहीं रुके।

संबंधित निर्माण एजेंसी ने बाकी बचे मजदूरों से कोरोना सावधानी का पालन करते हुए काम कराया जा रहा है। मोरे ने बताया कि इतवारा बाजार साइड और मंगलवारा साईड में माता मार्ग संगम पर ब्रिज के साइड में बनने वाली सीढ़ियों का काम शुरू हो गया था।

फिलहाल उसे रोक दिया गया है और गार्डर डालकर सीमेंट फर्श किए जाने का काम हो रहा है। उन्होंने कहा कि यह काम हो जाने के बाद रोड साइड का पूरा काम हो जाएगा। इसके बाद रेलवे के हिस्से का काम रह जाएगा जो कि रेलवे को कराना है।

खबरें और भी हैं...