विरोध-प्रदर्शन / राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल, जांच केंद्राें की संख्या बढ़ाई जाए : माकपा

X

  • वामदल के कार्यकर्ताओं ने सरकार के विरोध में दिया धरना

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

पुरैनी. भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी की ओर से राज्यस्तरीय धरना- प्रदर्शन  प्रखंड मुख्यालय स्थित सुरेश मिस्त्री के आवास पर शुक्रवार को एक किया गया।  कार्यक्रम की अध्यक्षता  सीपीआईएम के जिला सचिव मनोरंजन सिंह ने की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस जैसी वैश्विक महामारी के बीच केंद्र और  राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हो रही है।

विकास योजना के नाम पर आमजनों को लाभ पहुंचाने के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति हो रही है। उन्होंने सरकार से मांग किया कि क्वारेंटाइन सेंटर की व्यवस्था को सुदृढ़ एवं भ्रष्टाचार मुक्त हो, प्रत्यक्ष कर अदा नहीं करने वाले प्रत्येक परिवार को 10 हजार रुपए दिया जाए।

वहीं कोरोना संक्रमण के लक्षण की जांच के लिए  केंद्रों की संख्या बढ़ाई जाए। स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मी, पुलिसकर्मी एवं सभी कोरोना वाॅरियर्स को रक्षा किट प्रदान की जाए। शहरी एवं ग्रामीण मजदूरों को मनरेगा के तहत 500 रुपए  मजदूरी का भुगतान किया जाए।

सभी परिवारों को 35 किलोग्राम अनाज दिया जाए, श्रम कानून में बदलाव को सरकार  वापस ले। सरकार  केरल मॉडल को लागू करे, सरकारी स्तर से किसानों को मकई की फसल को 2000 रुपए प्रति क्विंटल की खरीद करे। इस अवसर पर उपेंद्र मेहता, सियाराम मेहरा, राजकिशोर मेहता, जागेश्वर मेहरा, चंद्रकिशोर पोद्दार, सीताराम मंडल, पवनी देवी व पूरन ऋषिदेव सहित अन्य भी मौजूद थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना