पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वायरल फीवर का कहर:वायरल फीवर से 1 बच्चे की मौत, 6 नए मामले आए

पूर्णिया10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्णिया के बच्चा वार्ड में बच्चे का इलाज कराते परिजन। - Dainik Bhaskar
पूर्णिया के बच्चा वार्ड में बच्चे का इलाज कराते परिजन।
  • मेडिकल कॉलेज में वायरल फीवर के मरीजों की संख्या में वृद्धि, 36 बेड तैयार

राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय में वायरल फीवर के मरीजों में लगातार वृद्धि हो रही है। वायरल फीवर के 6 नए मरीज बच्चा वार्ड में भर्ती हुए है। पहले से 11 बच्चे वायरल फीवर से पीड़ित थे। इसमें 5 बच्चे स्वस्थ होकर घर लौट गए। बच्चा वार्ड में कुल वायरल फीवर के 12 बच्चे भर्ती है। एक 6 माह के बच्चे की मौत हो गई। हालांकि बच्चे के मौत का कारण वायरल फीवर है, इसकी पुष्टि अभी तक नहीं हो पायी है। एक 3 साल के बच्चे को हॉयर सेंटर रेफर किया गया। बच्चा वार्ड के नोडल अधिकारी सह शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. प्रेम प्रकाश ने बताया की 6 माह के एक बच्चे को भर्ती कराया गया था, लेकिन बच्चा काफी क्रिटिकल स्थिति में था। भर्ती के बाद ही उसकी मौत हो गई। बच्चे को फीवर था, लेकिन इसे वायरल फीवर नहीं कह सकते, क्योंकि इसकी जांच नहीं हुई थी। एक तीन साल की बच्ची को फीवर से पीड़ित थी। जिसे हेयर सेंटर रेफर कर दिया गया है। बच्चा वार्ड में 25 मरीज भर्ती है। जिसमें 12 मरीज वायरल फीवर के है। अन्य में डायरिया, निमोनिया, टाइफाइड आदि के मरीज है। डॉ.प्रेम प्रकाश ने बताया की जिस तरह से वायरल फीवर के मरीजों में वृद्धि हो रही उस अनुपात मरीज ठीक भी हो रहे है। ज्यादा पैनिक होने की जरूरत नहीं है। बच्चे को मास्क पहनाकर रखे। धूप व बारिश से बचे बच्चे बुखार या बदन में दर्द होने पर डॉक्टर की सलाह ले।

मरीजों में वृद्धि होने के बाद 36 बेड का वार्ड हुआ तैयार : डॉ. विजय
जिस तरह वायरल फीवर बच्चो में बढ़ रहा है, उसके अनुपात में ठीक भी हो रहा है। बच्चा वार्ड में अलग से तीन बैड लगा दिया गया है, ताकि मरीज को परेशानी न हो। अभी संसाधन की कमी है। मरीजों में वृद्धि होने के बाद 36 बेड का वार्ड तैयार कर लिया गया। मरीजों को किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। सभी दवाइयां भी उपलब्ध है। कर्मियों के डिप्टेशन रिलीज व छुट्टी भी केंसिल कर दी गई है।
डॉ.विजय कुमार, अधीक्षक राजकीय चिकित्सा कॉलेज, पूर्णिया

खबरें और भी हैं...