योजना / 1176 प्रवासी मजदूरों को सिलाई-कटाई का दिया जाएगा प्रशिक्षण, मुद्रा लोन से दी जाएगी मशीन

1176 migrant laborers to be given stitching and training, machine to be provided with Mudra loan
X
1176 migrant laborers to be given stitching and training, machine to be provided with Mudra loan

  • उद्योग विभाग के क्लस्टर योजना से प्रवासी मजदूरों को जोड़ने का निर्देश

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 06:18 AM IST

पूर्णिया. जिले के सिलाई-कटाई जानने वाले 1176 प्रवासी मजदूरों को जीविका और आरएसईटीआई के माध्यम से प्रशिक्षण देकर उन्हें मुद्रा लोन उपलब्ध करवाते हुए सिलाई- मशीन के साथ-साथ कटिंग मशीन और स्टिचिंग मशीन भी उपलब्ध करवाया जाएगा।ताकि इन प्रवासी मजदूरों को बेहतर रोजगार का साधन मिल सके। ये बातें जिलाधिकारी राहुल कुमार ने प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिलाने को लेकर आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान कही। 
 जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित जीविका के डीपीएम एवं आरएसईटीआई के निदेशक को जिन प्रवासी मजदूरों के पास सिलाई-कटाई का हुनर है उन्हें अल्पकालिक अवधि का प्रशिक्षण दिलवाने का निर्देश दिया वाहन लीड बैंक मैनेजर को 30 मई तक उन मजदूरों को मुद्रा लोन योजना से 30 मई तक सिलाई मशीन दिलवाने का निर्देश दिया। जीविका के डीपीएम को जिन प्रवासी मजदूरों को मशीन उपलब्ध करवाया गया है, उन्हें जीविका से जोड़ते हुए 31 मई तक मास्क निर्माण के लिए कपड़ा और रॉ मेटेरियल उपलब्ध करवाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक को प्रवासी मजदूरों को उद्योग विभाग के क्लस्टर योजना से जोड़ने का निर्देश दिया। वरीय उपसमाहर्ता अभिराम त्रिवेदी को बियाडा से समन्वय स्थापित कर फ्लोर मिल, चूड़ा मिल, फ़ूड प्रोसेसिंग यूनिट के माध्यम से रोजगार उपलब्ध करवाने के साथ-साथ मार्बल टाइल्स, एसी फ्रिज मिस्त्रियों के लिए रोजगार सृजन करवाने को कहा। जिलाधिकारी ने जिला परिवहन पदाधिकारी को वाहन चालक प्रवासी मजदूरों को मुख्यमंत्री वाहन योजना से जोड़ने का निर्देश दिया।
आइसोलेशन कोषांग के लिए 8 पदाधिकारियों को किया प्रतिनियुक्त : जिलाधिकारी राहुल कुमार ने जिले में आइसोलेशन कोषांग के लिए 8 पदाधिकारियों को किया प्रतिनियुक्त  है।जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में 2 आइसोलेशन केंद्र और 6 क्वारेंटाइन केंद्र बनाया गया है।केंद्र संचालन के लिए आठ पदाधिकारियों को प्रतिनियुक्त किया गया है।प्रतिनियुक्त पदाधिकारी अवसान के दौरान किसी भी व्यक्ति के तबियत खराब होती है तो इसकी सूचना सिविल सर्जन या अस्पताल अधीक्षक को देंगे। साथ ही साथ वे होटल में आने वाले चिकित्सकों से रजिस्टर पर टिप्पणी लेने का काम करेंगे। ये सभी प्रतिनियुक्त चिकित्सा कर्मी सिविल सर्जन के नियंत्रण में रहेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना