पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

शोक:दिलीप कुमार के निधन से एक युग का अंत हो गया

पूर्णिया23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

फिल्म अभिनेता दिलीप कुमार के निधन पर सामाजिक संस्था एनर्जेटिक फाउंडेशन ने दुख प्रकट किया। भट्ठा बाजार स्थित रतन भवन मे शोक सभा आयोजित कर अध्यक्ष रोहित यादव ने भावभीनी श्रद्धांजलि दी। रोहित यादव ने कहा फिल्म राम और श्याम, गंगा जमुना, नया दौड़, लीडर, मुगले आजम, कोहिनूर, कर्मा फिल्म काफी लोकप्रिय रहा। संस्था के उपाध्यक्ष दिलीप कुमार कुमार ने कहा की दिलीप कुमार के निधन से एक युग का अंत हो गया। मेराे मितवा मेरे दिलो-दिमाग पर एक अमिट छाप छोड़ कर चला गया। नया दौड़ का गाना साथी हाथ बढ़ाना साथी रे, एक अकेला थक जाएगा, मिलकर बोझ उठाना साथी रे...संदेश दिया। उनकी अदाकारी के कारण दादा साहब फाल्के पुरस्कार, फिल्म फेयर पुरुस्कार, पद्म भूषण, पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। सीमा साहा ने कहा कि दिलीप कुमार व सायरा बानो की जोड़ी सदा बहार जोड़ी के रूप में जानी जाती थी।

खबरें और भी हैं...