पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत:आठ दिनों से जारी सफाईकर्मियों की हड़ताल खत्म, आज से पटरी पर लौटेगी सफाई व्यवस्था

पूर्णिया4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर आयुक्त के आश्वासन के बाद टूटी हड़ताल, 12 सूत्री मांगों को लेकर कर रहे थे प्रदर्शन

नगर आयुक्त से वार्ता के बाद नगर निगम के सफाई कर्मियों ने पिछले 8 दिनों से 12 सूत्री मांगों को लेकर जारी अनिश्चितकालीन हड़ताल वापस ले लिया है। सफाई कर्मियों के द्वारा हड़ताल वापस लेने के बाद बुधवार से एक बार फिर से सफाई व्यवस्था पटरी पर लौटने की उम्मीद है। हड़ताली कर्मचारी संघ के मंत्री बैद्यनाथ सिंह ने कहा कि नगर आयुक्त जीउत सिंह ने महासंघ के द्वारा दिए गए 12 सूत्री मांग एवं नगर निगम कर्मचारी संघ पूर्णिया के द्वारा दिए गए 15 सूत्री मांग पत्र में नगर निगम स्तर के सभी मांग एक माह के अंदर पूरा करने का आश्वासन दिये जाने के बाद हड़ताल समाप्त ले लिया गया है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर एक माह के भीतर सभी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो नगर निगम कर्मचारी संघ पुनः फैसले पर विचार करेगी।इधर नगर आयुक्त जीउत सिंह ने कहा कि नगर निगम स्तर से होने वाले काम को एक माह के अंदर पूर्ण करने का आश्वासन दिया गया है। उन्होंने यह भी किया कि नगर निगम के सफाई कर्मियों के एसीपी व एमसीपी, वर्दी आदि की मांग निगम के स्तर पर निष्पादित होगा। जिसे एक माह के अंदर लागू किया जाएगा। वहीं छठे वेतन व सातवें वेतन मान के लिए सरकार के एनओसी लेना होगा। उन्होंने कहा कि पूर्णिया नगर निगम में रुपए की कमीनहीं हैं। कर्मचारियों को उसका हक मिलना ही चाहिए। सरकार की चिट्‌ठी आयी है कि छठे व सातवें वेतन मान नगर निगम अपने आंतरिक स्रोत से अगर दे सकती है तो उसे दें। नगर आयुक्त ने बताया कि इसके लिए आंतरिक स्रोत से कैसे आय बढ़ेगा इसका आंकलन किया जाएगा और सरकार को इसकी कॉपी दी जाएगी। सरकार द्वारा स्वीकृति मिलने पर ही इसे लागू किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि अनुकंपा के आधार पर होने वाली बहाली के लिए उन्होंने 5 सितम्बर को 13 लोगों की सूची जिला स्थापना में भेजा था। लेकिन वहां से लौटा दिया गया, क्योंकि सरकार द्वारा 2020 में अनुकंपा के आधार पर उन्हीं लोगों की बहाली होनी है जो दसवीं पास होंगे इस पर नगर आयुक्त ने कहा कि वे सरकार को इसके लिए पत्र भी लिखेगें।

खबरें और भी हैं...