लूटकांड का मामला:हरदा पुल पर झारखंड जा रही प्रचार गाड़ी लूटकांड का 10 दिन बाद भी नहीं मिला सुराग

पूर्णिया2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अपराधियों ने हथियार दिखाकर प्रचार गाड़ी के पांच कर्मियों से लूट की घटना को दिया था अंजाम
  • मरंगा थाना में 28 नवम्बर को दर्ज हुआ था मामला

मरंगा थाना क्षेत्र के हरदा पुल पर पूर्णिया से झारखंड के रामगढ़ जा रही एक प्रचार गाड़ी लूट कांड के 10 दिन बाद भी पुलिस को अपराधियों का सुराग नहीं मिल सका है। घटना की रात एक स्कॉर्पियो पर सवार आधा दर्जन से अधिक अपराधियों ने हथियार का भय दिखाकर प्रचार गाड़ी पर सवार 5 कर्मियों को बंधक बनाकर हरदा पुल पर लूट की घटना को अंजाम दिया था। पिकअप गाड़ी में 6 एलईडी टीवी, लैपटॉप, 4 बॉक्स, एलईडी वेपर लाइट आदि सामान लदा हुआ था। पीड़ित नमो विजन इवेंट कम्पनी के मालिक निश्चल कुमार सिंह ने कहा कि लूट की घटना के 10 दिन बाद भी मरंगा थाना पुलिस अपराधियों को पकड़ नहीं सकी है। उसने दूरभाष पर बताया कि वे इस संदर्भ में पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर शीध्र अपराधियों की गिरफ्तारी व लूटा गया सामान की बरामदगी की मांग करेंगे। ज्ञात हो कि 27 नवम्बर की रात लगभग 10 बजे हरदा पुल पर स्कॉपियों सवार आधा दर्जन अपराधियों ने हथियार का भय दिखाकर पहले पिकअप गाड़ी पर सवार 5कर्मियों को स्कॉपियों में बिठा लिया और अपने से पिकअप गाड़ी पर लदा इवेंट का सारा सामान लेकर कटिहार जिले के फलका जाकर पांचों कर्मियों का हाथ-पांव बांधकर सड़क किनारे छोड़ दिया और गाड़ी लेकर फरार हो गया था। इवेंट कम्पनी के मालिक निश्चल कुमार सिंह ने बताया कि पिकअप गाड़ी में लगभग 10 से 12 लाख रुपए का सामान लोड था। पिकअप गाड़ी की भी कीमत 5 लाख रुपए से अधिक ही होगी। नमो विजन मैनेजमेंट कम्पनी के कर्मी शांतनु कुमार ने बताया कि वह झारखंड से पूर्णिया ईवेंट कराने आए थे । सामान लेकर झारखंड के रामगढ़ जा रहा था कि हरदा पुल पर स्कॉर्पियो सवार आधा दर्जन से अधिक अपराधियों ने रोका। अपराधियों ने पहले हमलोगों को नीचे उतार दिया। उसके बाद वे लोग पिकअप गाड़ी को अपने कब्जे में ले लिया और हथियार का भय दिखाकर हमलोगों को स्कार्पियों में हांथ-पांव बांधकर बिठा दिया। अपराधियों ने हमलोगों को कटिहार जिले के फलका थाना क्षेत्र में एक सुनसान स्थान पर उतारकर पिकअप गाड़ी लेकर फरार हो गया था। अपराधियों द्वारा बंधक बनाए गये कर्मियों में शांतनु कुमार, रोहित कुमार, रवि कुमार, ओमप्रकाश व शैलेश कुमार शामिल था। इधर मरंगा थानाध्यक्ष मिथिलेश कुमार ने बताया कि पिकअप गाड़ी लूट मामले की जांच में पुलिस लगी हुई है। बहुत जल्द उद्भेदन हो जाएगा।

खबरें और भी हैं...